यहां हाथों हाथ बनेगा गोल्डन कार्ड, गंभीर बीमारियों का फ्री में उपचार

यहां हाथों हाथ बनेगा गोल्डन कार्ड, गंभीर बीमारियों का फ्री में उपचार

By: Subodh Tripathi

Published: 06 Jan 2020, 01:33 PM IST

नीमच. जिन मरीजों के पास गोल्डन कार्य है उनकों तो निजी चिकित्सालय के माध्यम से लाखों रुपए के उपचार का लाभ मिलेगा ही सही, लेकिन जिन लोगों के पास गोल्डन कार्ड नहीं है, उनको भी गंभीर बीमारियों में लाखों रुपए का उपचार का लाभ मिलेगा। क्योंकि जिले में आयोजित किए जा रहे इन विभिन्न स्वास्थ्य शिविरों में हाथों हाथ गोल्डन कार्ड भी बनाए जाएंगे, साथ ही अगर वे इस पात्रता में नहीं आते हैं तो उन्हें अन्य योजनाओं के तहत मार्गदर्शन देकर उपचार लाभ दिया जाएगा।


आयुष्मान भारत निरामय मध्यप्रदेश योजना के अंतर्गत जिले में चार स्थानों पर इस माह स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें मरीजों को चिन्हित कर 5 लाख रुपए तक के नि:शुल्क उपचार के लिए निजी चिकित्सालयों में रेफर किया जाएगा। इसी के साथ अगर कोई मरीज आयुष्मान योजना के अंतर्गत पात्र नहीं होगा तो उसे मौके पर ही अन्य योजनाओं की जानकारी दी जाएगी, जिसके तहत वह गंभीर बीमारियों का उपचार निजी चिकित्सालयों में करवा सकता है।


हाथों हाथ बनेंगे गोल्डन कार्ड
इस योजना के तहत 1399 प्रकार की बीमारियों का उपचार करवाया जा सकेगा। शिविर में जहां विभिन्न चिकित्सक मौजूद रहेंगे। वहीं आयुष्मान मित्र व कॉमन सर्विस सेंटर का स्टॉल भी लगाया जाएगा। ताकि अगर कोई मरीज जिसका गोल्डन कार्ड नहीं बना है तो वह गोल्डन कार्ड हाथों हाथ बनवा सकेगा। इसके लिए उन्हें आधार कार्ड और समग्र आईडी आदि दस्तावेज भी साथ ले जाने होंगे।


यहां लगेंगे शिविर
विकासखंड का नाम दिनांक शिविर स्थान
मनासा 6 जनवरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनासा
डीकेन 8 जनवरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रतनगढ़
पालसोड़ा 9 जनवरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जीरन
नीमच 20 जनवरी जिला चिकित्सालय परिसर नीमच


इस प्रकार चारों विकासखंड में आयुष्मान भारत निरामय मध्य प्रदेश योजनांतर्गत प्रात: 10 बजे से स्वास्थ शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिसमें आयुष्मान योजना में पात्र लोगों को तो स्वास्थ्य लाभ मिलेगा ही सही। वहीं अन्य गंभीर बीमारियों के मरीजों को भी उपचार के लिए मार्गदर्शन दिया जाएगा। जैसे अगर कोई किडनी रोग से पीडि़त है तो उसे जिला चिकित्सालय में होने वाली डायलिसिस के बारे में बताकर मार्गदर्शन दिया जाएगा। वहीं १८ वर्ष तक के बच्चों को आरबीएसके के तहत चिन्हित कर डेढ़ से दो लाख रुपए तक का उपचार दिलाया जाएगा।

जिले के विभिन्न विकासखंडों में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन होगा, जिसमें सोमवार को मनासा में शिविर लगेगी, जिलेवासी इन शिविरों में पहुंचकर स्वास्थ्य और परामर्श का लाभ लें।
-डॉ एसएस बघेल, सीएमएचओ

Subodh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned