नीमच में धीरे-धीरे कर 13 हो गए कोरोना पॉजीटिव कैसे पढ़े....

नीमच में धीरे-धीरे कर 13 हो गए कोरोना पॉजीटिव कैसे पढ़े....

By: Virendra Rathod

Published: 10 May 2020, 10:30 AM IST

नीमच। जिले से भेजे गए कुल 595 सेम्पल में से 530 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। शुक्रवार देर रात 56 नए सेम्पल जांच हेतु निषाद लेब भोपाल भेजा गया हैं। पॉजिटिव आने वाले लोगों को क्वॉरंटीन सेंटर से जिला चिकित्सालय नीमच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। सभी का उपचार जारी है। जिले में चार मुख्यालय पर हम्माल मोहल्ला, स्कीम नम्बर 7, आरबीएस अस्पताल मेहनोत नगर, घंटाघर इन ४ क्षेत्रों को कंटेंमेंट जोन बनाकर आवागमन प्रतिबंधित किया गया है। वहीं शनिवार रात को दो कोरोना पॉजीटिव रिपोर्ट आई है। जिसमें लक्कड़मंडी में सराफा परिवार के सदस्य है, वहीं मेहनोत नगर में घरों में काम करने वाली महिला की कोरोना पॉजीटिव रिपोर्ट आई है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. संगीता भारती ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम इस क्षेत्र में स्वास्थ्य सर्वे कर रही है द्य पूरी सावधानी से पीपीई किट आदि की सुविधाओं के साथ घर घर जाकर स्वास्थ्य परीक्षण कर रही है। 8 मई तक जिले में विदेश, अन्य राज्यों और शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के सर्दी खांसी, बुखार के संभावित कुल 23 हजार 842 लोगों की स्वास्थ्य जांच कर ली गई है। नीमच शहरी क्षेत्र में अभी तक 9 हजार 905 लोगों की डोर टू डोर स्क्रीनिंग भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा की गई है। जिला चिकित्सालय नीमच में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में 10 व्यक्तियों को भर्ती है जिसका उपचार जारी है। जिला एवं ब्लाक स्तर पर चिन्हित गायत्री मंदिर के पास बस्ती गृह, वात्सल्य भवन व देव रेसीडेंसी और जावद छात्रावास में बनाए गए क्वॉरंटीन सेंटर पर 150 लोगों को रखा गया है। जिला चिकित्सालय में आने वाले लोगों को सोशल डिसटेन्स के बारे में विशेष ध्यान रखने का कहा जा रहा है। प्रतिदिन जिला चिकित्सालय में सैनिटाईज किया जा रहा है।

संदिग्ध की तुरंत प्रशासन को दे सूचना
डॉ. भारती ने जनता से अपील की है कि कंटेंमेंट झोन में निवासरत लोग स्वाथ्य विभाग की टीम को सही सही जानकारी दें। सर्वे टीम को सहयोग प्रदान करें। कोई समस्या होने पर कंट्रोल रूम पर सूचना दें। बाहर से आने वाले व्यक्ति जिनमे सर्दी खांसी और बुखार के लक्षण हैं, वह जिला चिकित्सालय में चिकित्सक को दिखाएं। अफवाहों पर ध्यान न दें। जिला प्रशाशन का सहयोग करें।

बाजार में मिली छूट का गलत इस्तेमाल
जिला कलैक्टर ने जिले के ओरेंज जोन में होने के चलते बाजार खुलने की अलग-अलग वार निर्धारित कर दुकानों को खुलने की छूट दी है। लेकिन लोग फिर भी सोशल डिस्टेंस का ख्याल नहीं रख रहें है और दुकानदार इस संकट की घड़ी में भी अपनी लालच की दुकान चलाने में जुटे हैं। जिसके चलते शहर की कुछ किराना दुकानों और सब्जी बेचने वालों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं की जा रही है। जिससे शहर में और भारी मुसीबत बढ़ सकती है।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned