शहर के एटीएम पर कोरोना संक्रमण का खतरा कैसे पढ़े....

शहर के एटीएम पर कोरोना संक्रमण का खतरा कैसे पढ़े....

By: Virendra Rathod

Published: 10 May 2020, 10:10 AM IST

नीमच। कोरोना संक्रमण के खतरे से बचाव के लिए जहां प्रशासन लाख प्रयास कर रहा है, जिसके तहत शासकीय द?तरों में थंब मशीन पर हाजिरी भी बंद करवा दी गई है और बैकों में घुसने से पहले हाथों को सेनेट्राइज किया जा रहा है। जिससे कि कोरोना का संक्रमण न फैल सके। लेकिन वहीं दूसरी और शहर के किसी भी एटीएम में न तो सेनेटाइजर है और न ही पैसा निकालने, आने वालों के बीच में सोशल डिस्टेंस नजर आ रहा है। जबकि एटीएम में सभी तरह के लोग पैसा निकालने आते हैं। उसके की.बोर्ड पर कई बार उंगलियां लगाई जा रही हैं।

शहर के सभी एटीएम मशीन पर कोरोना का खतरा अधिक मंडरा रहा है। अगर किसी संक्रमित व्यक्ति द्वारा एटीएम मशीन का इस्तेमाल कर रुपए निकाले गए और उसके बाद कोई दूसरा व्यक्ति आकर बटन दबाकर रुपए निकालता है तो ऐसे में इस बीमारी को फैलाए जाने का खतरा बना हुआ है। लीड बैंक अधिकारी ने भी अपनी मजबूरियां गिनाते हुए उपभोक्ताओं को ही सावधानी रखने की सलाह दे डाली।

 

एक नजर में शहर के एटीएम और वहां की व्यवस्थाएं
केस: १- शहर में विजय टॉकिज चौराहे पर स्थित प्रतिष्ठित एचडीएफसी बैंक में लगे एटीएम में न तो बाहर गार्ड और न ही सोशल डिस्टेंसिंंग का पालन हो रहा है। एटीएम केबिल में पांच से अधिक लोग घुसे है। वहां सेनेट्राइजर बोटल भी नहीं है। एक के बाद एक बटन दबाकर पैसे निकाल रहें है। इस बीच अगर कोई संक्रमित व्यक्ति रुपए निकालने आता है तो शत प्रतिशत कोरोना संक्रमण फैलेगा।

केस: २- महू रोड और फव्चारा चौक स्थित एसबीआई की एटीएम मशीन में न तो गार्ड है और न ही वहां पर सोशल डिस्टेंस की पालना कराने वाला कोई व्यक्ति है। यहां तक की सेनेट्राइजर बोटल तक नहीं रखी है, ऐसे में संक्रमण का खतरा दोगुना बढ़ जाता है।

केस: ३- शहर के टैगोर मार्ग स्थित एक मात्र एसबीआई के एटीएम पर ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है और यहां पर गार्ड भी मौजूद है। लेकिन अगर शहर की अन्य दर्जनभर मशीनों की बात करें तो हालत दयनीय है और संक्रमण को दावत देती नजर आ रही हैं।

मैँ व्यवस्था सुधरवाता हूं
जिन एटीएम पर गार्ड है, वहां सेनेटाइज व सोशल डिस्टेंसिंग का नियम पालन करवाया जाता है। वैसे हमारे अधिकांश एटीएम पर गार्ड नहीं है, आरबीआई ने इसकी परमिशन नहीं दी है। एटीएम से राशि निकालते समय उपभोक्ता पेपर रखकर बटन दबाएं, यह नियम भी बैंक ने जारी किए हैं। मैं सभी बैंक की जांच कर निर्देशित करूंगा की वह सोशल डिस्टेंस की पालना कराए और सेनेटाइजर प्रत्येक व्यक्ति को करें।
- सुरेशचंद यादव, लीड बैंक अधिकारी नीमच।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned