लाखों के सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद भी बदमाश नहीं हो रहे डिटेक्ट

लाखों के सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद भी बदमाश नहीं हो रहे डिटेक्ट

By: Virendra Rathod

Published: 07 Jan 2019, 09:39 AM IST

नीमच। शहर में लाखों रुपए खर्च कर सुरक्षा को बढ़ाने के हिसाब से करीब 30 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। वहीं पुलिस व प्रशासन ने दावा किया था कि अब लुटेरों और चोरों का बचकर निकलना मुश्किल होगा। बदमाश सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाएंगे और उनकों पहचानना आसान होगा। लेकिन यह सब दावे इन दिनों होने वाली वारदातों में खोखली साबित हो रही है। पुलिस के सीसीटीवी कैमरे में बदमाश कैद नहीं हो रहे है। पुलिस निजी दुकानों के कैमरे पर आश्रित होकर उनसे फुटैज कबाडऩे में जुटे हैं। अभी तक गत वारदातों में भी पुलिस को बदमाशों के बारे में कुछ पता नहीं चला है।

 

शहर में 30 से अधिक सीसीटीवी कैमरे
प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने करोड़ से अधिक रुपए खर्चकर जिले में सीसीटीवी कैमरे सुरक्षा की दृष्टि से लगवाए है। शहर में करीब ३० सीसीटीवी कैमरे लगे है। जिसमें खासकर फव्वारा चौक, मैसी शोरूम, प्लेटिनियम चौराहा, निगम चौराहा, कलेक्टर चौराहा, एसपी ऑफिस, नीमच सिटी रोड, बघाना, मंडी रोड, कॉलेज रोड, महू रोड, मनासा रोड पर सीसीटीवी कॅमरे लगे है। उसके बाद भी इन कैमरों में बदमाश डिटेक्ट नहीं हो रहें है।

 

शहर में यह हुई घटनाए
केस: 1- 28 दिसंबर अर्थात १२ दिन पूर्व बाइक से आए दो बदमाश एक शिक्षिका के गले से सोने की चेन झपटकर भाग निकले थे। वारदात के बाद पुलिस ने घटनास्थल व आसपास के क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फु टेज खंगाले हैं। घटना दोपहर करीब 1 बजे की है। विकास नगर की चंदा बिड़ला उम्र 59 वर्ष एक निजी स्कूल में शिक्षिका है। शहर से करीब 4 किलोमीटर दूर ग्राम कनावटी से लौट रही थी। तभी कनावटी से पुलिस लाइन के बीच स्कूटर से आ रही चंदा बिड़ला के पीछे से आए दो बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने महिला के गले से सोने की चेन झपटी और फ रार हो गए थे। चंदा बिड़ला के गले से करीब 12 ग्राम वजनी सोने की चेन गई थी।
केस: 2- 18 दिसंबर को विकासनगर निवासी 80 वर्षीय वृद्धा कोमलबाई कोठारी अपनी बेटी के घर जाने के लिए पोती का इंतेजार कर रही थी। वह उन्हें छोडऩे के लिए स्कूटी लेकर आने वाली थी। इस दौरान वह बाहर से कुसी उठाकर रख रही थी। तभी बाइक पर सवार दो युवक आए उनसे रास्ता पूछा और वह मुड़ी जैसे ही पीछे से झपट्टा मारकार चेन खींच ली और भाग निकले। जिनके फुटैज निजी कैमरे में आए थे। लेकिन बदमाशों का कुछ पता नहीं चला। चैन करीब दो तोला की थी। जिसकी कीमत करीब ६० हजार रुपए है।

केस: 3- कनावटी निवासी शंकुतला पति सत्यनारायण गर्ग उम्र 75 वर्ष महिला बास में सवार होकर बाजार में खरीददारी के लिए आई थी। महिला पैदल रोड क्रास करने के लिए कमल चौक पर खड़ी थी। तभी पीछे से बाइक पर सवार दो युवक आए। जिन्होंने महिला को आगे पुलिस चैकिंग होने का डर दिखाया और कहा कि आपको पता नहीं है कि रोजाना चैन स्नेचिंग और लूट की वारदात चल रही है। उसके बाद भी महंगे कंगन पहनकर घूम रही हो। हम पुलिस है। आपके कंगन को उतारकर बैग में रख लो। इस दौरान महिला ने कंगन उतारे और बदमाशों ने कहा लाओं में रूमाल में बांधकर सुरक्षित बैग में रख देता हूं। उसके बाद उन्होंने कंगन लेकर बैग में रखे और वह वहां से बाइक द्वारा निकल गए। महिला ने कुछ देर बाद बैग में देखा तो कंगन नहीं थे। उसके बाद उसे ठगी का पता चला। वह तुरंत केंट थाना पहुंची और आप बीती पुलिस को बताई। कंगन करीब तीन तोले के थे।

 

फुटैज के आधार पर तस्दीक की जा रही है
कई स्थानों पर कैमरे नहीं लगे है, कल की वारदात के दौरान कमल चौक पर सीसीटीवी कॅमरा ही लगा है, निजी दुकान वालों की मदद से फुटैज लेकर पहचान कराई जा रही है। वही समयानुसार उनकी लोकेशन देखी जा रही है। जल्द ही बदमाश गिरोह पुलिस की गिरफ्त में होगा।
- नरेंद्र सोलंकी, सीएसपी नीमच।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned