इन दिनों यहां पैराशूट प्रत्याशियों को लेकर गर्माई हुई है राजनीतिक

युवाओं के रोजगार को लेकर अधिक चिंतित हैं लोग

By: harinath dwivedi

Published: 15 Nov 2018, 10:48 PM IST

नीमच. जैसे जैसे मतदान की तारीख नजदीक आती जा रही है राजनीतिक सरगर्मी भी तेज होती जा रही है। दुकान हो या चौपाल सभी दूर चुनावी चर्चे गर्म हैं। भाजपा और कांगे्रस प्रत्याशियों के जनसम्पर्क से लेकर सरकार द्वारा किए गए कार्यों के चर्चे आम हैं। युवाओं की जुबान पर पैराशूट से उतरे प्रत्याशियों को लेकर अधिक चर्चा हो रही है। महंगाई और युवाओं की बेरोजगारी के मुद्दे भी चर्चा के महत्वपूर्ण पूर्ण बिंदू हैं। राजनीतिक दलों द्वारा गरीबों के उत्थान के लिए योजनाएं अवश्य लागू की जा रही है, लेकिन इसका अतिरिक्त भार आम जनता पर ही पड़ता है यह पीड़ा भी चर्चा में निकलकर सामने आ रही है।

युवाओं को मिले रोजगार के अवसर
आम जनता प्रदेश सरकार से काफी उम्मीदें लगाए बैठी हैं। जिसकी भी सरकार बनें, महंगाई नियंत्रित करने का सबसे पहला काम करे। आज युवा शिक्षित तो हो रहा है, लेकिन रोजगार नहीं मिल पाने की वजह से दर दर भटकने को मजबूर है। अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।
- दिलीप शर्मा, इलेक्ट्रॉनिक्स

कहीं न लाद दे अतिरिक्त आर्थिक बोझ
चाहे सरकार भाजपा की बने या कांग्रेस की जनहित में कार्य होना चाहिए। अच्छी बात है कि कांग्रेस और भाजपा गरीबों के हितों की बात करते हैं। लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए कि दोनों की राजनीतिक दल अपनी स्वार्थपूर्ति के लिए आम लोगों पर अतिरिक्त आर्थिक बोझ लाद दे।
- श्रीकांत जायसवाल, ट्रेवल्स संचालक

हर समस्या को किया है दूर
भाजपा शासन में अच्छे काम हुए हैं। जनता की हर समस्याओं का निराकरण करने का पूरा प्रयास किया गया है। कुछ कमियां रह गई होंगी तो उन्हें भी दूर किया जाएगा। जनता की परेशानियों को दूर करने के लिए अनेक योजनाएं लागू की गई है। इसका लाभ अवश्य भाजपा को मिलेगा।
- विजय डोरिया, रेडिमेड गारमेंट्स

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned