मस्जिद पर नवाज अदा पर रोक, घर से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई

मस्जिद पर नवाज अदा पर रोक, घर से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई

नीमच। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को लेकर पुलिस प्रशासन ने सख्त के तहत एक ओर ठोस कदम उठाया है और मस्जिदों में नवाज के लिए भीड़ पर रोक लगा दी। जिसको लेकर मंगलवार शाम को मुस्लिम समाज के सदर, उलेमाओं और पेशे इमाम के साथ बैठक की। बैठक एसडीएम एसएल शाक्य ओर सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल ने ली, इस दौरान शहर काजी सद्दाम हुसैन अत्तारी भी मौजूद थे।

सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल ने बताया कि गत रात को बघाना में कुछ लोग की भीड़ एकत्रित मिली। जिन्हें घर जाने के लिए पुलिस द्वारा कहा गया। उनका कहना था कि वह नवाज पढऩे रात को मस्जिद जा रहे है। जबकि देश में कोरोना का संकट काफी बढ़ा हुआ। मंदिर, मेले और सभी सामूहिक आयोजन पर रोक है। उसके बाद भी लोग समझने को तैयार नहीं है। इसी को लेकर पुलिस कंट्रोल रूम पर शाम को शहर के मुस्लिम समाज के प्रबुद्ध लोगों के साथ प्रशासन ने बैठक की। जिसमें शहर के उलेमाओ, पेशे इमाम, सदर और शहर काजी उपस्थित हुए थे। जिसमें सहमति बनी है कि मस्जिद पर सिर्फ पेशे इमाम, मुत्तलीव और सफाईकर्मचारी ही नवाज अदा करेंंगे। आमजन के लिए रोक है। वह घर से ही नवाज अदा करेंगे। वहीं मस्जिद के लाउड स्पीकर से कोरोना वायरस के खतरे के बारे में आमजन को भी लगातार जागरूक किया जाएगा। वहीं बघाना के कुछ मुस्लिम समाज के लोगों ने फैसले पर विरोध किया। लेकिन शहरकाजी की लोकहित में समझाइश पर व समझ गए।

छह लोगों पर हुई 188 में कार्रवाई
सीएसपी शुक्ल ने बताया कि लॉक डाउन के चलते शहर में कफ्र्यू है, उसके बाद भी आमजन घर से निकलने में बाज नहीं आ रहे हे। शहर पुलिस ने घर से बाहर निकलने वालों को लाठी से खदेड़ा। वहीं करीब छह लोगों के खिलाफ लॉक डाउन का उल्लघंन करने पर धारा 188 में प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की गई है। आमजन से पुलिस का अनुरोध है कि वह उनके और परिवार के स्वास्थ्य का ख्याल रखे और घर से बाहर नहीं निकले। वरना कानूनी कार्रवाई से गुजरना पड़ेगा, यह सभी की जिदंगी की सवाल है।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned