- संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी

- संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी

harinath dwivedi | Publish: Sep, 12 2018 11:45:40 AM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

नीमच उपखंड में 153 स्थानों पर विराजेंगे गणेश
वॉलिंटियर्स के अलावा नगर सुरक्षा समिति सदस्यों को भी जिम्मेदारी

नीमच. गणेश उत्सव की तैयारियां जोरशोर से चल रही है।गणेश पर्व निर्विघ्न संपन्न हो इसके लिए पुलिस और प्रशासन ने भी माकूल इंतजाम किए हैं। पुलिस का अतिरिक्त बल आमद दे चुका है। जहां पर गणपति स्थापना की जाएगी वहां के आयोजकों को जिम्मेदारियां दी गई हैं।जबकि संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर वहां पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी रखी जाएगी।
शहर और गावों में पर्व का उल्लास-
नीमच शहर एवं आसपास के गावों में गणेश पर्व का उल्लास छाया है। बाजार में रौनक बढ़ गई है। गणपति प्रतिमाओं के बाजार सज गए हैं। चौराहों-चौराहों पर गणेश प्रतिमाएं स्थापित करने के लिए पांडाल सजाए जा रहे हैं। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में जहां भी गणपति स्थापना की जा रही है वहां प्रशासन द्वारा अनुमतियां दी गई हैं। बिना अनुमति के कहीं पर भी आयोजन नहीं हो सकेंगे।मंगलवार शाम तक की स्थिति के अनुसार प्रशासन और पुलिस के पास पहुंचे आवेदनों पर पांडाल की अनुमतियां दी गई हैं।कुछ स्थानों पर बिना बड़े पांडाल के पारंपरिक गणपति स्थापनाएं की जाएंगी।जानकारी के अनुसार नीमच सिटी थाना अंतर्गत शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 32 स्थानों पर अनुमति दी गई है।बघाना थाना क्षेत्र में 62, जीरन में 21 और केंट थाना क्षेत्रमें 38 स्थानों पर अब गणपति पांडाल की अनुमतियां दी जा चुकी हैं। हालांकि बुधवार को भी यह सिलसिला जारी रह सकता है।
सात संवेदनशील क्षेत्रों पर खास निगरानी-
नीमच उपखंड के नीमच सिटी में दो, बघाना में 3, केंट में एक और ग्रामीण क्षेत्र में १ स्थान को पुलिस ने चिन्हित किया है। जहां पर पूर्व में तनाव की घटनाएं हो चुकी हैं। इन स्थानों पर गणपति उत्सव के आयोजनकर्ताओं को पाबंद किया गया है। साथ ही अति संवेदनशील स्थानों पर पुलिस द्वारा सीसीटीवी कैमरे लगवाए जा रहे हैं। सिटी, बघाना और केंट के स्थानों पर पुलिस की स्थायी तैनाती उत्सव तक भी की जा रही है। इसके अलावा गश्त टीम को लगातार आवाजाही कर निगरानी रखने को कहा गया है। इन स्थानों की मॉनिटरिंग के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा नगर तथा ग्राम सुरक्षा समितियों के सदस्यों को गणपति पांडालों की चौकसी का जिम्मा दिया गया है। आयोजक मंडलों के दो-दो सदस्य बारी-बारी से 24 घंटे के लिए तैनात रहेंगे।किसी भी अप्रिय स्थिति की सूचना पर कार्रवाई करने के लिए क्यूआरटी भी बनाई गई है।
वर्जन-
गणपति उत्सव के लिए सब डिविजन में डेढ़ सौ से अधिक स्थानों पर प्रतिमाएं स्थापित करने के लिए समितियों द्वारा अनुमति ली गई है।आयोजकों की सुरक्षा के प्रति जवाबदेही तय की गई है।इसके अलावा संवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हित कर आवश्यकता अनुसार सुरक्षा और निगरानी के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। आगामी त्यौहारों तक यह व्यवस्था बनाए रखेंगे।-नरेंद्र सौलंकी, सीएसपी नीमच
--------------------

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned