-नर्मदा जयंती और बलराम जयंती के खुले ड्रॉ

-नर्मदा जयंती और बलराम जयंती के खुले ड्रॉ

harinath dwivedi | Publish: Sep, 16 2018 11:05:45 AM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

मंदसौर के किसान को मिला ट्रेक्टर, नीमच के किसानों को मिली नकद राशि

-कृषि उपज मंडी में उपज बेचने वाले किसानों को मिली सौगात

नीमच. कृषि उपज मंडी में शनिवार को बलराम जयंती और नर्मदा जयंती के उपलक्ष्य में खोले जाने वाले ड्रा का आयोजन हुआ। जिसमें मंदसौर जिले के एक किसान को ट्रेक्टर की सौगात मिली है। वहीं नीमच जिले के अधिकतर किसानों को पुरस्कार के रूप में 5 हजार रुपए से लेकर 21 हजार रुपए तक की राशि की सौगात मिली है।
कृषि उपज मंडी में शनिवार को बलराम जयंती मनाई गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में विधायक दिलीपसिंह परिहार, जिला पंचायत अध्यक्ष अंवतिका मेहरसिंह जाट, सचिव संजीव श्रीवास्तव, भारतीय किसान संघ के निलेश पाटीदार सहित काफी संख्या में किसान उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरूआत भगवान बलराम की पूजा अर्चना कर की गई। जिसके बाद सभी अतिथियों ने किसानों को किसान हितैषी योजनाओं का लाभ लेने के लिए प्रेरित किया। इसके बाद एक एक कर पुरस्कार खोले गए।
उक्त आयोजन में बलराम जयंती के उपलक्ष्य में कृषि विपणन प्रोत्साहन योजना का ड्रा खोला गया। जिसमें 01 फरवरी 2018 से 31 जुलाई 2018 तक मंडी में उपज बेचने वाले किसानों की पर्ची डाली गई। जिसमें प्रथम पुरस्कार 21 हजार रुपए प्रतापगढ़ जिले के ग्राम सुबी के किसान सूर्यप्रकाश पिता मनालाल को खुला। द्वितीय पुरस्कार नीमच जिले के ग्राम बिसलवास सोनीगरा के रामप्रसाद रामचंंद्र नागदा व अड़मालिया के रामलाल पिता मोड़ी को 15-15 हजार रुपए का खुला। वहीं 11-11 हजार रुपए के पुरस्कार सकरानी के कैलाश पिता कंवरलाल, हिंगोरिया के मुरारीलाल पिता बालुराम, ढोलपुरा के गणपत पिता रतनलाल को खुला, इसी प्रकार 5-5 हजार रुपए का पुरस्कार भरभडिय़ा के लीलाचंद्र पिता कचरूलाल, सकरानी के दिनेश रामप्रसाद, भरभडिय़ा के मुकेश वरदीचंद्र, कानाखेड़ा के रामप्रसाद जगन्नाथ को खुला। इसी के साथ 1 अगस्त 2017 से 31 जुलाई 2018 तक मंडी में कृषि उपज बेचकर पंजीयन कराने वाले किसानों में से बंपर ड्रा खोला गया। जो मंदसौर जिले के कोटड़ा बुर्जुग के किसान शुभम पिता देवीलाल को मैसी ट्रेक्टर 39 एचपी का खुला है।
इसी प्रकार नर्मदा जयंती के उपलक्ष्य में 01अगस्त 2017से 31 जनवरी 2018 तक मंडी में उपज बेचने वाले किसानों की पर्चिया ड्रॉ में डाली गई। जिसमें प्रथम पुरस्कार 21 हजार रुपए नीलिया के किसान प्रहलाद पिता मांगीलाल को खुला, 15-15 हजार रुपए का पुरस्कार सरजना के किसान घनश्याम डालुराम, हड़मालिया के किसान विजयसिंह राजाराम को खुला, 11-11 हजार रुपए के पुरस्कार रेवार के किसान नानीबाई जगन्नाथ, बामनबड़ी के लक्ष्मीनारायण मोहनलाल, अड़मालिया के मदनलाल ताराचंद्र को खुला, 5-5 हजार रुपए का पुरस्कार दलावदा के प्रेमचंद्र बापूलाल, चडोल के मांगीबाई नानुराम, बोरदिया कला के नंदलाल ऊंकारलाल, भानपुरा धुआंखेड़ी मंदसौर जिले के सीताबाई रामनारायण को खुला है। हालांकि जिन किसानों को यह पुरस्कार खुले थे, उनमें से कोई मौके पर नहीं था, लेकिन मंडी प्रशासन द्वारा सभी को सूचना देकर उक्त पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।
कृषि उपज मंडी सचिव संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि उक्त आयोजन काफी उत्साह पूर्वक हुआ। जिसमें काफी संख्या में किसानों ने शामिल होकर शासन की विभिन्न योजनाओं को जाना, इस अवसर पर यह भी बताया गया कि बारिश के बाद ही नवीन मंडी का कार्य शुरू होगा और प्रयास यह रहेगा कि अगली गर्मी तक कम से कम एक दो उपज की मंडी प्रारंभ कर दी जाए।
---------------------

Ad Block is Banned