372 शालाओं के शिक्षक और शाला प्रधान की लग रही क्लास

372 शालाओं के शिक्षक और शाला प्रधान की लग रही क्लास

Mahendra Kumar Upadhyay | Updated: 14 Jun 2019, 07:02:40 PM (IST) Neemuch, Neemuch, Madhya Pradesh, India

-शाला सिद्धी के तहत दिया जा रहा दक्षता उन्नयन का प्रशिक्षण
-हिंदी, गणित और अंग्रेजी विषयों पर अधिक दिया जा रहा ध्यान

नीमच. माध्यमिक विद्यालयों के बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के उद्देश्य से इस बार जिले की सभी शालाओं का चयन शाला सिद्धी योजना के तहत कर लिया गया है। जिसके तहत सभी शालाओं के शाला प्रधान और एक एक वरिष्ठ शिक्षक को डाईट भवन में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ताकि शिक्षक ट्रेंड होने के बाद बच्चों की गुणवत्ता में सुधार ला सकें।
एपीसी केएम सौलंकी ने बताया कि पहले शाला सिद्धी योजना के तहत मात्र १४० शालाएं थी। जिनमें शाला की गुणवत्ता में बेहतर सुधार आने पर जिले के सभी माध्यमिक शालाएं कुल ३७२ को शाला सिद्धी योजना के तहत ले लिया है। जिसके तहत सभी शाला से एक एक शाला प्रधानाध्यापक व एक एक वरिष्ठ शिक्षक को डाईट भवन में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण उन मास्टर ट्रेनरों द्वारा दिया जा रहा है। जिन्हें भोपाल में शाला सिद्धी योजना के तहत प्रशिक्षण दिया गया था। ऐसे १५ मास्टर ट्रेनर अब सभी माध्यमिक शालाओं के शिक्षकों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। जिसमें तीन दिन शाला सिद्धी के तहत प्रशिक्षण दिया जा रहा है। वहीं तीन दिन दक्षता उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
उक्त प्रशिक्षण पूरे जून माह सुबह १० से शाम ०५.३० बजे तक चलेगा। जिसमें हिंदी, गणित, अंग्रेजी विषय पर अधिक ध्यान देने के टिप्स सहित शाला के संपूर्ण विकास की टेक्निक सिखाई जा रही है। चूकि एक साथ सभी को प्रशिक्षण नहीं दिया जा सकता है। इस कारण पांच पांच दिन के लिए बारी बारी से शिक्षकों और शाला प्रधान को बुलाया जा रहा है।
--------------

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned