-ई हॉस्पीटल योजना के तहत हुआ जिले का चयन

-ई हॉस्पीटल योजना के तहत हुआ जिले का चयन

harinath dwivedi | Publish: Sep, 08 2018 12:03:32 PM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

अब मरीजों को मोबाईल पर मिल जाएगी जांच रिपोर्ट
एक क्लिक पर मिल जाएगा मरीजों से संबंधित समस्त डाटा

नीमच. जिला चिकित्सालय में कितने मरीज पहुंचते हैं। कौन सी बीमारी के मरीज अधिक पहुंच रहे हैं। जांच में कितने मरीज विभिन्न बीमारियों में पॉजीटिव पाए गए हैं। क्षेत्र में कौन सी बीमारी का प्रकोप है। मरीजों की संख्या के मान से जिला चिकित्सालय में ओर क्या सुविधाएं होनी चाहिए। बीमारियों का नियंत्रण करने के लिए क्या करना चाहिए। आदि जानकारी के लिए आलाअधिकारियों अब किसी से रिपोर्ट नहीं मांगनी पड़ेगी। अब एक क्लिक पर जिला अधिकारियों से लेकर आलाअधिकारियों को यह रिपोर्ट ऑनलाइन एक क्लिक पर मिल जाएगी। क्योंकि जिला चिकित्सालय का चयन ई हॉस्पीटल योजना के तहत हो गया है।
बतादें की अभी तक जिला चिकित्सालय में अधिकतर कार्य मैन्युल होते आए हैं। ऐसे में कई कार्यों की समीक्षा नहीं हो पाती है। इससे यह भी पता नहीं चलता है कि क्षेत्र में कौन सी बीमारी के मरीज अधिक निकल रहे है व कौन सी बीमारी के मरीज कम। इसी के चलते जिला चिकित्सालय को भी ई हॉस्पीटल योजना से जोड़ा जा रहा है। ताकि कहीं से भी ऑनलाइन जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों सहित अन्य जानकारियां देखी जा सके। इस योजना के तहत मरीजों का पंजीयन से लेकर भर्ती करने, विभिन्न प्रकार की खून, पेशाब, शुगर, बीपी आदि की जांच, एक्स रे की जांच, सोनोग्राफी की जांच आदि ऑनलाईन होगी। जिला चिकित्सालय को ई हॉस्पीटल योजना के तहत ऑनलाइन करने की प्रक्रिया चल रही है। संभवता एक माह में जिला चिकित्सालय की सभी रिपोर्ट ऑनलाइन हो जाएगी।
मरीज को मिलेगी मोबाईल पर रिपोर्ट
कई बार मरीज को विभिन्न प्रकार की जांच के लिए सेम्पल देने के बाद रिपोर्ट के लिए चक्कर लगाना पड़ता है। वैसे तो मरीज को जिला चिकित्सालय के पंजीयन केंद्र पर ही विभिन्न जांचों की रिपोर्ट मिल जाती है। लेकिन इसके लिए मरीज को जिला चिकित्सालय आना पड़ता है। लेकिन जिला चिकित्सालय ऑनलाइन होने के बाद एक्सरे और सोनोग्राफी रिपोर्ट छोड़कर शेष सभी रिपोर्ट मरीज को सेम्पल की जांच होते ही मोबाईल पर मिल जाएगी। ताकि मरीज रिपोर्ट खुद देखकर या संबंधित चिकित्सक को दिखाकर उपचार का लाभ ले ले।
कागज घूम जाने पर भी रहेगा मरीज का डाटा
ई हॉस्पीटल योजना के तहत विभिन्न प्रकार की जांच और ओपीडी पर्ची ऑनलाइन होने से किसी भी मरीज का डाटा एक क्लिक पर देखा जा सकता है। बस उसे स्वयं की आईडी याद होना चाहिए। इस प्रकार ऑनलाइन सिस्टम होने के बाद अगर किसी मरीज के पास से उसके उपचार के दौरान की जांच रिपोर्ट या अन्य पर्चे गुम भी हो जाते हैं तो वे एक क्लिक पर देखे जा सकते हंै कि किस मरीज को कौन सी बीमारी हुई थी। उसकी जांच में क्या सामने आया था। बस उसी आधार पर आगे का उपचार किया जा सकता है।
वर्जन.
जिला चिकित्सालय का ई हॉस्पीटल योजना के तहत चयन हुआ है। जिसके तहत ऑनलाइन सिस्टम होने के बाद मरीजों को खून आदि की जांच तुरंत मोबाईल पर मिल जाएगी। वहीं कहीं से भी कोई भी अधिकारी एक क्लिक पर जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों की स्थिति व बीमारियों के बारे में जान सकते हैं।
-डॉ मनीष यादव, आरएमओ

Ad Block is Banned