निर्धारित समय पर खुलें सभी शालाएं व आंगनवाड़ी केंद्र

कलेक्टर ने जिला अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश

By: harinath dwivedi

Updated: 30 Dec 2018, 12:56 PM IST

कलेक्टोरेट में आयोजित प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में मौजूद वरिष्ट अधिकारी।

नीमच. जिले के सभी शासकीय, प्राथमिक माध्यमिक, हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी विद्यालय तथा आंगनवाड़ी केंद्र शासन द्वारा निर्धारित समय पर ही खुलें और बंद हों। कोई भी शिक्षक, प्राधानाचार्य, प्राचार्य या अन्य अधिकारी बिना सक्षम अवकाश स्वीकृति के अनुपस्थित न रहे। अन्यथा संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

नाश्ता व भोजन का वितरण मीनू अनुसार हो

यह निर्देश कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने शनिवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला अधिकारियों की बैठक में विभागीय योजनाओं और कार्यक्रमों की प्रगति की विस्तार से समीक्षा करते हुए दिए। बैठक में कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि बोर्ड परीक्षाओं में सुधार के लिए अभी से कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करें। उन्होंने महिला बाल विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि आंगनवाड़ी केंद्रों में पोषण आहार, नाश्ता व भोजन का निर्धारित मीनू अनुसार तय समय पर ही वितरण किया जाए। आंगनवाड़ी केंद्रों में शाला पूर्व अनौपचारिक शिक्षा पर भी विशेष ध्यान दिया जाए। बैठक में कलेक्टर ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि मनरेगा योजना के तहत लेबर बजट की लक्ष्यपूर्ति एवं मानव दिवस रोजगार सृजन पर विशेष ध्यान दिया जाए। प्रयास किया जाएं कि 31 जनवरी 19 तक निर्धारित लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाए। कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ को प्रति ग्राम पंचायत न्यूनतम 60 श्रमिकों को रोजगार पर लगाने और उसके अनुसार नवीन कार्य स्वीकृत करवाने के निर्देश भी दिए। ताकि मानव दिवस रोजगार सृजन का लक्ष्य पूर्ण किया जा सके। कलेक्टर ने शहरी विकास योजनाओं, महिला एवं बाल विकास, महिला सशक्तिकरण, शिक्षा, सर्वशिक्षा अभियान, लोक स्वाण्यांत्रिकी एवं राजस्व विभाग द्वारा संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा की। प्रारंभ में कलेक्टर ने सभी अधिकारियों से परिचय भी प्राप्त किया। बैठक में वनमंडलाधिकारी रमेशचंद विश्वकर्मा, जिला पंचायत सीईओ कमलेश भार्गव, एसडीएम विनयकुमार धोका भी उपस्थित थे। कलेक्टोरेट में आयोजित प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में जिले के आला अधिकारी मौजूद रहे। अधिकारियों ने अपने विभाग की समीक्षा रिपोर्ट भी बैठक में प्रस्तुत की।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned