Neemuch Atikramn शासकीय जमीन पर हो रहे कब्जे को सीएमओ ने मौके पर पहुंच रुकवाया

25 हजार वर्गफीट से अधिक जमीन पर अवैधानिक रूप से बनाई जा रही थी बाउंड्रीवाल

By: Mukesh Sharaiya

Published: 01 Jul 2019, 01:46 PM IST

नीमच. बंगला नंबर 55 में करोड़ों रुपए मूल्य की बेसकीमती जमीन पर अवैधानिक रूप से कब्जा किया जा रहा था। कई बार सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत भी की जा चुकी थी, लेकिन नपा प्रशासन कार्रवाई नहीं कर रहा था। रविवार को अचानक सीएमओ मौके पर पहुंचे और अवैधानिक रूप से शासकीय जमीन पर हो रहे कब्जे को रुकवाया।

कार्रवाई से शासकीय जमीन की हुई पुष्टि
बंगला नंबर 55 में करोड़ों रुपए मूल्य की करीब 25 हजार वर्ग फीट जमीन पर कुछ दिनों से कब्जा करने का प्रयास कर रहा था। इस संबंध में क्षेत्र के रहवासियों ने कई बार नगरपालिका अधिकारियों और जनसुनवाई में कलेक्टर तक को इससे अवगत कराया था, लेकिन कोई वैधानिक कार्रवाई नहीं हो रही थी। इस बीच क्षेत्रवासियों ने सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की। इसका सार्थक परिणाम दिखाई दिया। अवकाश होने पर भी रविवार को सीएमओ रियाजुद्दीन कुरैशी बंगला नंबर 55 पहुंचे। मौके पर अवैधानिक रूप से शासकीय जमीन पर बाउंड्रीवाल निर्माण करते हुए लोग मिले। सीएमओ ने उन्हें बाउंड्रीवाल निर्माण करने से रोका। सीएमओ की कार्रवाई से एक बात की पुष्टि तो हुई है कि जो लोग बाउंड्रीवाल का निर्माण कर रहे हैं उनके पास जमीन के संबंध में किसी प्रकार के दस्तावेज नहीं है। उपलब्ध दस्तावेजों के आधार पर मात्र 5 हजार वर्ग फीट जमीन ही एक व्यक्ति के नाम है, जबकि करोड़ों रुपए मूल्य की 25 हजार वर्ग फीट से अधिक की जमीन पर बाउंड्रीवाल बनाकर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा था। अवैधानिक रूप से शासकीय जमीन पर कब्जा करने के लिए संबंधित लोगों ने खुलेआम भ्रष्टाचार किया है। जनप्रतिनिधियों और क्षेत्र के कुछ लोगों को भी प्रलोभन देकर अपने पक्ष में कर लिया था। इसके चलते ही खुलेआम करोड़ों रुपए मूल्य की जमीन पर अवैधानिक रूप से बाउंड्रीवाल बनाने की हिम्मत ये लोग जुटा पाए थे। सीएमओ की रविवार को की गई कार्रवाई के बाद इन लोगों के मंसूबों पर पानी फिर गया।

अवैधानिक रूप से कर रहे थे कब्जा
बंगला नंबर 55 में कुछ लोगों द्वारा अवैधानिक रूप से करीब 25 हजार वर्गफीट जमीन पर अवैधानिक रूप से कब्जा किए जाने की शिकायत मिली थी। इस शिकायत के आधार पर मौके पर पहुंचकर अवैध कब्जा करने से रोका गया।
- रियाजुद्दीन कुरैशी, सीएमओ

Mukesh Sharaiya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned