एटीएम काटकर १७ लाख चुराने वाले गिरोह का एक और आरोपी धराया

एटीएम काटकर १७ लाख चुराने वाले गिरोह का एक और आरोपी धराया

harinath dwivedi | Updated: 09 Jun 2018, 11:08:59 AM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India


-केरल, महाराष्ट्र, राजस्थान सहित कईप्रदेशों में की वारदातें
-१ लाख ६५०० रुपए जब्त, ५ और आरोपियों की तलाश में भेजी टीम

नीमच. देश के विभिन्न राज्यों की पुलिस के नाक में दम करने वाले एटीएम तोड़कर रुपए चुराने वाले गिरोह के एक और सदस्य को नीमच पुलिस ने गिरतार करने में सफलता हासिल की है। आरोपी से चोरी किए गए १ लाख ६ हजार ५०० रुपए जब्त कर लिए गए हैं। इससे पहले नीमच पुलिस द्वारा गिरतार किए गए गिरोह के पहले सदस्य को महाराष्ट्र पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर ले गई है।
यह थी घटना-
२३ मार्च की रात्रि में नीमच के महू रोड़ पर माधोपुरी बालाजी मंदिर के समीप एसबीआई के एटीएम के कैशबॉक्स को काटकर बदमाशों ने १६ लाख ७९ हजार ७०० रुपए की राशि चोरी कर ली थी। इस वारदात को सुलझाने के लिए एसपी तुषारकांत विद्यार्थी द्वारा सीएसपी नरेंद्रसिंह सौलंकी और टीआई केंट गिरवरसिंह जलोदिया की अगुवाई में विशेष टीम का गठन किया था। टीम ने लगभग डेढ़ माह की मेहनत में गिरोह की कुंडली खंगाल ली थी। इसके बाद एक-एक कर आरोपियों की गिरतारी की जा रही है। पहला आरोपी राजू उर्फ ताहिर मेवाती को पुलिस ने हरियाणा के पलवल से १ लाख ५ हजार रुपए सहित गिरतार किया था। पूछताछ में आरोपी ने इस वारदात में ७ लोगों के शामिल होने की जानकारी दी थी। इस आधार पर पुलिस सभी सात बदमाशों को आरोपी बनाकर ५-५ हजार रुपए का ईनाम घोषित किया था।
अलीगढ़ से गिरतार हुआ दूसरा आरोपी-
विशेष टीम को सूचना मिली कि इस वारदात में शामिल एक आरोपी उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ में है।टीम ने योजनाबद्धतरीके से आरोपी आदिल चौधरी पिता मेहबूब खान चौधरी (२३) निवासी श्यामनगर, पलवल, हरियाणा को गिरतार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वारदात में जो रूपए चुराए गए थे उसमें से उसे डेढ़ लाख रुपए हिस्से के रूप में मिले थे। इस राशि में से आरोपी के पास से १ लाख ६५०० रुपए बरामद कर लिए गए। पूछताछ में आरोपी आदिल ने पुलिस को बताया कि शेष राशि उसने साथी कैफ पिता कमेउद्दीन निवासी अंदरोला जिला पलवल हरियाणा को देदी है।
नीमच में की गई वारदात में आरोपियों ने आयशर कंपनी का ट्रक एचआर-७४-ए-३६७६ एवं आई २० कार एचआर-५२-ई-७६६६ का इस्तेमाल किया था। ट्रक में कटर एवं वैल्डिंग मशीन यह गिरोह साथ लेकर चलता था। उस एटीएम को चुना जाता जहां पर गार्ड न हो।कुछ घंटे रैकी करने के बाद मौका देखते ही एटीएम के सीधे कैशबॉक्स को काटकर ट्रक में डाल दिया जाता। जबकि गिरोह के कुछ सदस्य कार में रवाना हो जाते।
बताया जाता है आदिल अच्छा वेल्डर है।इन वारदातों में उसकी भूमिका एटीएम मशीन को काटने की होती थी। अधिकतम ७ से ८ मिनिट में एटीएम के सीधे कैशबॉक्स को ही काट दिया जाता, और दसवें मिनिट में माल लेकर पूरा गिरोह रफूचक्कर हो जाता।
इस टीम की रही भूमिका-
मेवाती गिरोह के सदस्य आदिल को गिरतार करने एवं राशि बरामद करने में एसआई वीडी जोशी, एसआई अमित सारस्वत, एसआई आरके व्यास, एएसआई एमपी सिंह चौहान, प्रधान आरक्षक कैलाश कुमरे, आरक्षक ज्ञानचंद, अजीतसिंह, अनिरूद्ध, साइबर सेल के प्रशांत जयंत, प्रदीप शिंदे, लखनप्रतापसिंह आदि की भूमिका रही।

वर्जन-
एटीएम से रकम चोरी की बड़ी वारदात के गिरोह के दूसरे आरोपी को गिरतार किया गया है।शेष आरोपियों के लिए विशेष टीम को लगाया गया है।आरोपियों के बारे में हर बारीक जानकारी जुटाई जा रही है।आरोपी को रिमांड पर लिया गया है, पूछताछ में और भी वारदातों का खुलासा होगा।-तुषारकांत विद्यार्थी, एसपी नीमच

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned