राधा संग झूमें नंदलाल, ग्वालों ने खेला डांडिया रास

राधा संग झूमें नंदलाल, ग्वालों ने खेला डांडिया रास

harinath dwivedi | Publish: Sep, 03 2018 11:31:15 PM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

-जिलेभर में रात 12 बजते ही गूंजे शंख नगाड़े
-कहीं भजन संध्या, तो कहीं आकर्षक झांकियों ने मोहा मन

नीमच. श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर सोमवार को जिलेभर के मंदिरों में रात 12 बजते ही कृष्ण कन्हैयालाल के जयकारों के साथ ढ़ोल नगाड़ों के साथ पूजा अर्चना कर महाआरती की गई। एक साथ सभी मंदिरों और शहरवासियों के घरों में जब भगवान कृष्ण का जन्म हुआ तो पूरा गगन जयकारों से गूंज उठा। ऐसे में जहां देर रात तक श्रद्धालुओं की आवाजाही शहर के प्रमुख मंदिरों में लगी रही। वहीं दिन भर शहर सहित अंचलों में विभिन्न समाजों द्वारा भव्य शोभायात्राएं निकाली तो पूरा वातावरण ब्रज और वृंद्धावन की गलियों सा नजर आने लगा।
ग्वालटोली से निकला भव्य चल समारोह
चंद्रवंशीय ग्वाला समाज द्वारा सोमवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें आकर्षक झांकियों के साथ ही भगवान के रथ शामिल थे। शोभायात्रा में जहां राधा-कृष्ण बने कलाकार आकर्षण का केंद्र रहे। वहीं शिव तांडव नृत्य भी लोगों को लुभा रहा था। शोभायात्रा जैसे ही ग्वालटोली स्थित राधाकृष्ण मंदिर से प्रारंभ हुई। सैंकड़ों की संख्या में ग्वाला समाज के युवक-युवतियां, महिला, पुरूष बच्चे सभी साथ हो लिए। ऐसे में जहां एक ओर झांकियों का कारवां चल रहा था। वहीं समाजजनों की टोलियां डांडिया रास, अखाड़े में प्रदर्शन के साथ भजनों की धुन पर थिरकते हुए चल रहे थे। शहर के जिस मार्ग से यह भव्य चल समारोह निकला, विभिन्न समाजिक संगठनों द्वारा फूलों की बारिश कर स्वागत किया गया। इसी प्रकार शहर के बघाना, नीमच सिटी क्षेत्रों में भी शोभायात्राएं निकाली गई। इस प्रकार जहां लोग घरों में भगवान की पूजा अर्चना कर रहे थे, वहीं सड़कों पर भव्य शोभा यात्राएं निकल रही थी। दूसरी ओर शहर के सभी मंदिरों में आकर्षक श्रंगार के साथ झांकियां श्रद्धालुओं का मन मोह रही थी।
राधाकृष्ण मंदिरों में रही जन्माष्टमी की धूम

जावद. श्रीकृष्ण जन्म महोत्सव नगर के विभिन्न मंदिरों में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। माहेश्वरी समाज के रामानुज कोट मंदिर, सारस्वत समाज के रामजानकी मंदिर व चारभुजा मंदिर बैंगनपुरा, तेली समाज के सांवलियाजी मंदिर, लक्ष्मीनाथ मंदिर, केशवराय मंदिर, मूंदड़ा परिवार के मुरलीधर मंदिर, धाकड़ समाज के बद्रीनारायण मंदिर, सोनी समाज के चारभुजा मंदिर, नरसिंह मंदिर सहित नगर के सभी मंदिरों में भगवान की पूजा अर्चना एवं अभिषेक किए गए। प्रात: काल से ही सभी मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा। दोपहर में भजन कीर्तन एवं अन्य कई कार्यक्रम हुए। रात्रि 12 बजे मंदिरों में भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया गया। भक्तों ने आलकी की पालकी जय कन्हैयालाल की के जयकारों से मंदिरों को गूंजायमान कर दिया। भगवान की महाआरती की गई एवं पंजीरी के प्रसाद का वितरण किया गया। इससे पूर्व दोपहर में चंद्रवंशी ग्वाला समाज जावद द्वारा चल समारोह निकाला गया। जिसमें समाज के महिला पुरुष नाचते गाते चल रहे थे। बालकृष्ण व राधाजी बने बालक बालिकाओं की शोभायात्रा निकाली गई। शाम को मूंदड़ा परिवार द्वारा मूंदड़ा धर्मशाला बैंगनपुरा से भगवान लड्ढू गोपाल की शाही सवारी निकाली गई।
------------------------------


विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल ने निकाला भव्य चल समारोह
-अचंल में भी रही जन्माष्टमी की धूम

मनासा. जन्माष्टमी पर्व नगर सहित आसपास के क्षेत्रों में धूमधाम से मनाया गया। सभी मंदिरों में सुबह से ही पूजा अर्चना और दर्शन के लिए श्रद्धालु उमड़ते नजर आए। मंदिरों में भगवान कृष्ण का आकर्षक श्रंगार कर झांकिया सजाई गई। नगर में विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी एवं विश्व हिंदू परिषद की स्थापना दिवस के अवसर पर विशाल चल समारोह निकाला।
चल समारोह नगर के रामपुरा नाका स्थित बालाजी मंदिर से प्रारंभ हुआ। चल समारोह में मुख्य आकर्षण का केंद्र गो रक्षा, गो सेवा, बैलगाड़ी पे भगवान श्रीकृष्ण की आकर्षक झांकी, कांतिकारियों की आकर्षक झांकिया, लड्ढू गोपाल का रथ, मालवा लोक नृत्य, 4 अखाड़े वानर सेना सहित बैंड बाजों एवं ढोल ढमाकों की धुन पर नृत्य करते युवा मुख्य आकर्षण का केंद्र थे। चल समारोह रामपुरा नाका से बद्री विशाल मंदिर, चौपड़ गट्टा, सदर बाजार, विजय स्तंभ, सब्जी मंडी, जुनासाथ कार्नर एवं बस स्टैंड होते हुए अन्नपूर्णा मंदिर पर आकर समाप्त हुआ। इस दौरान काफी संख्या में नगरवासियों ने जगह जगह पुष्पवर्षा कर स्वागत किया।
गांव बरथुन एवं आतरी में स्कूली बच्चों ने गांव में चल समारोह निकालकर डांडिया खेला। राधाकृष्ण बन माखन से भरी मंटकिया फोड़ी। वहीं अन्य ग्रामीण अंचल अल्हेड़, नलखेड़ा, चपलाना, भाटखेड़ी, पड़दा, महागढ़, सेमली आंतरी, खजुरी, लोडकिया, ढाकनी, भदवा, देंथल, कुंडला, खानखेड़ी सहित अन्य गांवों में भी धूमधाम से मनाया गया।
...........
विशेष आवश्यकता वाले बच्चों ने मनाई जन्माष्टमी

नीमच. मप्र जन अभियान विकासखंड नीमच के मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम के विद्यार्थियों एवं मेंटर्स ने सीडब्ल्यूएसएन छात्रावास में विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के साथ जन्माष्टमी पर्व मनाया। इस अवसर पर उनके लिए मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया। सभी बच्चों ने आंख पर पट्टी बांधकर टेबल पर राखी मटकी को फोडऩे का प्रयास किया एवं कुछ बच्चों ने अपनी योग्यता को दिखाते हुए रोमांचक तरीके से मटकी फोड़ी। विजेता बच्चों को पुरुस्कार वितरण भी किया गया। सभी ने कृष्ण भक्ति के गीतों पर भी नृत्य किया।
इस अवसर पर एपीसी सर्व शिक्षा अभियान एसआर श्रीवास्तव, जन अभियान परिषद् पवन कुमरावत, मेंटर्स अनूप चौधरी, स्टूडेंट्स नवनीत अरोंदेकर, ज़ीनत बी, ज्योति बेंस, हर्ष सक्सेना, सामाजिक कार्यकर्ता पूनमचन्द, शिविका गर्ग, राहुल सोनी, छात्रावास शिक्षक मंगल प्रजापत, गोविन्द वर्मा, सुरेन्द्र सिंह, राहुल राव, अनिल भरवा उपस्तिथ थे।
--------------------
रतनगढ़ में धूमधाम से मनाई जन्माष्टमी
रतनगढ़. नगर के सभी राधा कृष्ण और कृष्ण मंदिरों में सोमवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर नगर के सभी मंदिरों को आकर्षक विद्युत साज सज्जा से श्रंगारित किया गया था। सभी मंदिरों में रात 12 बजे पूजा अर्चना कर आरती के साथ भगवान का जन्मोत्सव मनाया।

Ad Block is Banned