नीमच के राजा में नजर आएगा गजानन गणेश का रूप

नीमच के राजा में नजर आएगा गजानन गणेश का रूप

harinath dwivedi | Publish: Sep, 06 2018 11:44:09 PM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

-गणेशजी होंगे हाथी पर सवार, दिखेंगे 41 हाथियों के मुख
-21 फीट के गजानन को तैयार कर रहे बाम्बे के कलाकार

नीमच. 11 दिवसीय गणेशोत्सव की धूम इस बार 13 सितंबर से शहर सहित अंचलों में नजर आएगी। ऐसे में जहां शहर के मुख्य बाजारों में भगवान गणेश की विशाल प्रतिमाएं आकर्षण का केंद्र नजर आ रही है। वहीं विजय टॉकिज चौराहे पर इस बार नीमच के राजा गजानन गणेश के रूप में नजर आएंगे। जिनके प्रतिमा निर्माण का कार्य अंतिम दौर में चल रहा है।
बतादें की आर्यंस परिवार (ग्रुप) द्वारा इस बार 12 वां गणेशोत्सव मनाया जाएगा। यहां हर साल बनने वाली विशाल प्रतिमा आकर्षण का केंद्र रहती है। इस बार यहां भगवान गणेश की प्रतिमा गजानन गणेश के रूप में नजर आएगी। क्योंकि भगवान गणेश हाथी पर सवार नजर आएंगे। जिसमें करीब 41 हाथियों के मुख नजर आएंगे। इस प्रतिमा को बॉम्बे के कलाकारों द्वारा निर्मित किया जा रहा है। वहीं इसकी ऊंचाई 21 फीट की रहेगी। प्रतिमा का निर्माण स्थापना स्थल पर ही किया जा रहा है। जो 5 से 6 दिनों में तैयार हो जाएगी। प्रतिमा की साज सज्जा के लिए ज्वेलरी भी बॉम्बे से तैयार होकर आ रही है।
10 सदस्य कर रहे 12 साल से स्थापना, नहीं लेते किसी से चंदा
आर्यंस परिवार के सदस्य अंकित ऐरन ने बताया कि ग्रुप में करीब 10 सदस्य हैं। जो पिछले 12 सालों से इस चौराहे पर गणपति की स्थापना कर रहे हैं। इन 11 दिवसीय महोत्सव में किसी से किसी प्रकार का चंदा नहीं लिया जाता है। ग्रुप के सदस्य ही मिलकर सभी खर्चा आपस में मिलाकर वहन करते हैं। इस बार 12 वें साल में गजानन गणेश की प्रतिमा तैयार हो रही है।
शहर में सज गई गणपति प्रतिमाओं की दुकानें
शहर के चप्पे चप्पे पर इन दिनों गणेश प्रतिमाओं की दुकानें सज चुकी है। बाजार में आधा फीट से लेकर 8 से 10 फीट तक की प्रतिमाएं आकर्षण का केंद्र हैं। चूकि यहां से आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में भी प्रतिमाएं जाती है। इसलिए आसपास के भक्त प्रतिमाएं लेने पहुंच रहे हैं। शहर के टेगौर मार्ग पर गणपति प्रतिमाओं की दुकानें सज चुकी है।

Ad Block is Banned