लापरवाही पर लगाम कसने जिला अधिकारियों की टीम दौड़ी मैदान में

लापरवाही पर लगाम कसने जिला अधिकारियों की टीम दौड़ी मैदान में

By: harinath dwivedi

Updated: 10 Jan 2019, 10:29 PM IST

नीमच. शासकीय विद्यालयों में लापरवाह शिक्षकों पर लगाम कसने व बच्चों की शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार करने के उद्देश्य से जिला अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को जिले के आधा दर्जन से अधिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कुछ विद्यालयों में स्थिति संतोषजनक पाई गई, तो कुछ में बच्चों की उपस्थिति कमजोर होने के साथ ही शिक्षक भी नदारद नजर आए।
बतादें की गुरुवार को डीपीसी डॉ पीएस गोयल, एपीसी एसआर श्रीवास्तव, बीआरसी श्रवण चंदेल, सीएसी सोहन लाल आदि ने शासकीय प्राथमिक विद्यालय कुअरजी की खेड़ी, माध्यमिक विद्यालय कुअरजी की खेड़ी,प्राथमिक विद्यालय विलखंडा, माध्यमिक विद्यालय विलखंडा, प्राथमिक विद्यालय डाबडा, माध्यमिक विद्यालय डाबडा खुर्द, प्राथमिक विद्यालय लवा, प्रावि मावि अरनिया, प्रावि फंटा खेड़ी आदि विद्यालयों का निरीक्षण किया गया।
निरीक्षण के दौरान माध्यमिक विद्यालय अरनिया में दो शिक्षक नदारद पाए गए। हालांकि वे बाद में आ चुके थे। इसी प्रकार पीएस कुअरजी की खेड़ी में उपस्थित बच्चों में दक्षता का अभाव पाया गया। निरीक्षण के तहत विभिन्न विद्यालयों में बच्चों की दक्षता की जांच की गई। जिसके तहत ४० मिनिट के पीरियड के वर्कबुक की निरीक्षण किया गया। जिसमें जुलाई अगस्त से अब तक की स्थिति जांची गई। वहीं सीधे बच्चों से सवाल जवाब कर उनकी दक्षता जांची गई।

नायब तहसीलदार ने किया विद्यालयों का निरीक्षण


सिंगोली. शासन के निर्देशानुसार पंचायत स्तर पर आयोजित तीन दिवसीय ग्राम सभा का आयोजन किया जाना है। ग्राम पंचायत धारड़ी सहित धनगांव ओर बड़ी में आयोजित ग्रामसभा में नायब तहसीलदार एमएस दांगी ने पहुंचकर पंचायत सचिव को जरूरी कार्यवाहियों को समय पर पूरा करने के दिशा निर्देश दिए।
ग्राम सभा पश्चात गांवों में संचालित स्कूलों में पहुंचकर विद्यालयों में छात्र -छात्राओं सहित शिक्षकों की समय पर उपस्थिति की जानकारी ली। नायब तहसीलदार दांगी ने धारडी ग्राम सभा के बाद स्कूल में पहुंचकर वहां बन रहे मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता जांचने के लिए विद्यर्थियों के साथ बैठकर भोजन किया तथा स्वसहायता समूह के रसोइयों को मीनू अनुसार भोजन और साफ सफाई रखने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत बड़ी में भी विद्यालय का निरीक्षण किया अंत में ग्राम हरिपुरा पहुंचे। जहां बच्चे बाहर रेत में खेलते देखे गए तो उपस्थित अतिथि शिक्षकों से बच्चों के रेत में खेलने का कारण पूछा। उपस्थित अतिथि शिक्षकों ने बताया कि गणतन्त्र दिवस की तैयारी चल रही हैं तो शायद कुछ बच्चे खेलने के लिए बाहर आ गये होंगे। ग्राम हरिपुरा स्थित प्राथमिक विद्यालय में पहुंच बच्चों की उपस्थिति आदि के बारे में जानकारी ली ।



जिले के विभिन्न विद्यालयों में गुरुवार को औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जहां भी बच्चों की दक्षता में कमी व अन्य कमियां पाई गई, वहां संबंधित से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा, संतोषप्रद जवाब नहीं मिलने पर संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।
-डॉ पीएस गोयल, डीपीसी

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned