पेपर हाथ में आते ही विद्यार्थी के उड़े होश, यह कौन सी ली परीक्षा

पेपर हाथ में आते ही विद्यार्थी के उड़े होश, यह कौन सी ली परीक्षा

By: Subodh Tripathi

Published: 03 Mar 2019, 02:04 PM IST

नीमच. मैं उस समय आश्चर्य चकित रह गया जब मेेरे हाथ में इंग्लिश का पेपर आया, मैंने इस बारे में तुरंत परीक्षा कक्षा में ड्यूटी दे रहे प्रोफेसर को अवगत कराया। जैसे तैसे मैंने पहला पेपर तो दिया, लेकिन अब अगला पेपर भी इंग्लिश में आया तो मैं परीक्षा नहीं दूंगा।
यह बात बीसीए प्रथम वर्ष के विद्यार्थी शुभम यादव ने कही, उन्होंने बताया कि मैं हिंदी मीडियम से बीसीए कर रहा हूं। शुक्रवार को पहला पेपर फंडामेंटल का था, लेकिन मेरे हाथ में जो पेपर आया वह पूर्ण रूप से इंग्लिश में छपा हुआ था। चूकि अचानक इंग्लिश में लिखे प्रश्न सामने आने से मेरा जितना समझ में आया उतना तो मैंने हल किया, इस बारे में मैंन प्राचार्य को भी अवगत करा दिया है। अब अगला पेपर ५ मार्च को है। अगर वह भी इंग्लिश में आया तो मैं परीक्षा नहीं दूंगा।
प्राचार्य डॉ वीके जैन ने बताया कि इस संबंध में विद्यार्थी मेरे पास आया था, चूकि पेपर दोनों भाषाओं में आता है, जिससे हिंदी, इंग्लिश दोनों के विद्यार्थी हल कर सकते हैं। शुक्रवार को आए पेपर में एक ही भाषा थी, जिससे यूनिवर्सिटी को अवगत करा दिया है। अब आगे जो निर्णय यूनिवर्सिटी लेगी उसी के अनुसार कार्यवाही करेंगे। शनिवार को भी बीसीए के पेपर थे, जिनमें दोनों भाषाए थी।
12 वीं बोर्ड की परीक्षा में 184 विद्यार्थी रहे अनुपस्थित
जिलेभर में कक्षा 12 वीं बोर्ड की परीक्षा शनिवार को हिंदी के पेपर के साथ शुरू हुई। पहले दिन कुल 6416 में से 6232 विद्यार्थी उपस्थित रहे, वहीं करीब 184 विद्यार्थी अनुपस्थित रहे। वहीं कुल 26 स्थानों पर उडऩ दस्तों द्वारा निरीक्षण किया गया, कहीं पर भी नकल प्रकरण नहीं बना।

 

Subodh Tripathi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned