यहां पढ़ें कैसे अपात्रों को बांट दी पीएम आवास की राशि

यहां पढ़ें कैसे अपात्रों को बांट दी पीएम आवास की राशि

harinath dwivedi | Publish: Sep, 07 2018 09:50:34 PM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

-83 अपात्रों में से 50 ने लौटाई राशि, 33 अपात्रों से राशि वसूलने थमाए नोटिस
-अभी तक जिले में हुआ 5 हजार 800 से अधिक आवासों का निर्माण

नीमच. जिले को जहां एक ओर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्धारित लक्ष्य से अधिक अवास पूर्ण करने पर पुरस्कार मिला है। वहीं शासन की नींद बाद में खुलने के कारण वर्ष 2011 के सर्वे में पात्र हितग्राही अपात्र हो गए हैं। शासन द्वारा निर्धारित बिंदुओं पर खरे नहीं उतरने के कारण जिले के 83 हितग्राही अपात्र हो गए। अब जिम्मेदारों द्वारा अपात्रों से राशि वसूलने के लिए नोटिस थमाए गए हैं।
बतादें की प्रधानमंत्री आवास योजना वर्ष 2016 के अंत में प्रारंभ हुई थी। चूकि तब तक प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उन हितग्राहियों को दिया जाना था। जो वर्ष 2011 में सामाजिक, आर्थिक व जातिगत आधार पर की गई जनगणना में शामिल थेे । ऐसे में प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ वर्ष 2011 के सर्वे में पात्र हितग्राहियों को दिया जाने लगा। इसी बीच फरवरी-मार्च माह 2017 में शासन द्वारा पात्र हितग्राहियों के लिए 13 बिंदु जारी कर दिए गए। जिसमें बाद में संशोधन कर चार पांच बिंदु ही रखे हैं। शासन द्वारा निर्धारित बिंदुओं के अनुसार हितग्राही का पक्का मकान नहीं होना चाहिए, पूर्व में लाभ नहीं लिया हो, चार पहिया वाहन, ट्रेक्टर आदि नहीं हो, सरकारी नौकरी में नहीं हो आदि जारी कर दिए गए। इस मान से जिले में करीब 83 हितग्राही अपात्र हो गए।
50 लोगों से हुई वसूली 33 लोगों से वसूलना है राशि
चूकि उक्त मापदंड तब आए थे, जब तक की हितग्राहियों को 40-40 हजार रुपए के मान से पहली किश्त जारी कर दी गई थी। ऐसे में जिम्मेदारों को अपात्र हितग्राहियों से राशि वसूलना चुनौती बन गया। इसलिए एसडीएम, तहसीलदार और जनपद के माध्यम से नोटिस देकर वसूली की कार्रवाई शुरू की गई। जिसमें करीब जिले के 50हितग्राहियों ने राशि लौटा दी है। लेकिन अभी भी 33 अपात्रों से राशि वसूलना शेष है।
जिले को मिला टारगेट से अधिक अवास बनाने पर पुरस्कार
राज्य शासन द्वारा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में वर्ष 2018-19 में 31 अगस्त तक 1076 आवासों का लक्ष्य पूर्ण करने का टारगेट दिया था। जिसे पूर्ण करते हुए जिले में करीब 1162 आवास की सौगात जरूरतमंदों को मिली है। ऐसे में जिले को करीब 3 लाख रुपए का पुरस्कार मिला है। वहीं जनपद मनासा को 599 का लक्ष्य मिला था, जिसे पूर्ण करते हुए 630 आवास पूर्ण किए गए। वहीं जावद को 389 का लक्ष्य मिला था, जिसे पूर्ण करते हुए 421 आवास पूर्ण किए गए। इस प्रकार जावद और मनासा को 2-2 लाख रुपए का पुरस्कार प्राप्त हुआ है।
5 हजार 800 आवास पूर्ण, 7 हजार से अधिक लोग जुड़े एप से
वर्ष 2011 की जनगणना के आधार करीब 5803 पात्र हितग्राहियों के आवास पूर्ण हो चुके हैं। हालांकि उक्त दौरान काफी लोग पात्र होते हुए भी किसी कारणवश छूट गए थे। जिनका सर्वे पंचायत स्तर पर चल रहा है। ऐसे लोगों का सर्वे कर आवास प्लस एप पर जोड़ा जा रहा है। यह कार्य करीब 30 सितंबर तक चलेगा। अभी तक करीब 7 हजार लोग इस एप से जुड़ चुके हैं। जिन्हें आगे इस योजना का लाभ मिलेगा।
वर्जन.
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लक्ष्य से अधिक आवास पूर्ण किए गए हंै। जिसके तहत राज्य शासन से पुरस्कार मिला है। जो लोग शासन द्वारा निर्धारित बिंदुओं में अपात्र पाए गए थे। उनमें से अधिकतर से राशि प्राप्त हो चुकी है। शेष से वसूली की कार्यवाही चल रही है।
-कमलेश भार्गव, सीईओ, जिला पंचायत, नीमच

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned