नीमच नगरपालिका प्रदेश में बनी नंबर दो

नगरपालिकाओं में पहले स्थान पर राधौगढ़, दूसरे पर नीमच

नीमच. स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के तहत आगामी एक-दो दिन में सर्वे टीम नीमच पहुंचने वाली है। नगरपालिका प्रशासन की ओर से इसके लिए व्यापक स्तर पर तैयारी की गई है। जनता से फीडबैक लेने में नपा कर्मचारी जुटे हुए हैं। फीडबैक ऑनलाइन लिया जा रहा है। प्रदेश की नगरपालिकाओं में नीमच दूसरे स्थान पर है।
फीडबैक लेने में प्रदेश में दूसरे स्थान पर
स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के तहत जनता से फीडबैक लिया जा रहा है। सर्वेक्षण में आबादी के 10 प्रतिशत लोगों से फीडबैक लिया जाना है। नीमच नगरपालिका की आबादी डेढ़ लाख है। इस मान से 15 हजार लोगों से फीडबैक लेना है। 31 जनवरी तक फीडबैक लेने की अंतिम तारीख है। स्वच्छता सर्वेक्षण में फीडबैक के आधार पर भी 1500 में से अंक दिए जाएंगे। यदि लक्ष्य पूरा होकर जनता द्वारा नपा के पक्ष में उत्तर दिए जाते हैं तो सर्वे में अच्छे अंक प्राप्त होंगे। नगरपालिका की ओर से अबतक 3 हजार लोगों से फीडबैक लिए जा चुके हैं। 12 हजार लोगों से और फीडबैक लिया जाना शेष है। जनता द्वारा स्वयं ऑनलाइन फीडबैक देने में रुचि नहीं ली जा रही है। इसके चलते फीडबैक का प्रतिशत काफी कम है। नगरपालिका की ओर से भी लोगों को इसके लिए प्रेरित किया जा रहा है। भले नगरपालिका ने लक्ष्य की तुलना में अब तक मात्र ३ हजार लोगों से चर्चा कर ऑनलाइन किया हो, लेकिन यह आंकड़े प्रदेश की सभी नगरपालिकाओं में दूसरे क्रम पर है। राधोगढ़ नगरपालिका फीडबैक देने में पहले स्थान पर है।
इन प्रश्नों का देना है फीडबैक
क्या आपके घर से प्रतिदिन कचरा संग्रहित होता है। क्या आपसे कचरा संग्राहक द्वारा गीला व सुखा कचरा अलग अलग देेने के लिए कहा जाता है। क्या आप अपने आसपास की सफाई के स्तर से संतुष्ट हैं। क्या आप अपने शहर में हो रहे सामाजिक उत्सवों इंवेंट में इस्तेमाल होने वाली सिंगल यूज प्लास्टिक, पॉलीथिन बैग आदि के उपयोग में कमी देख रहे हैं। क्या आपने शहर में वेस्ट एक्सचेंट प्रोग्राम, बर्तन, फूडबैंक, वस्तुओं का पुन: उपयोग का पुनर्चक्रण संबंधी अभ्यास या मैसेज लिखे हुए दिखे हैं। क्या आपने आसपास में निर्माण व विध्वंस का कचरा दो से अधिक दिनों तक पढ़ा हुआ देखा है। क्या आप जानते हैं कि आपके समुदाय शहर में होम कम्पोस्टिंग को प्रोत्साहित किया जा रहा है या आप होम कम्पोस्टिंग कर रहे हैं। क्या आप अपने नजदीक के शौचालक को खोजने के लिए गूगल मैप का उपयोग करते हैं और हमें पता है कि गूगल मेप पर सार्वजनिक शौचालक की लोकेशन प्राप्त की जा सकती है। क्या आप जानते हैं कि आपके शहर में होटल, स्कूल, हॉस्पिटल रहवासी संघ सरकारी कार्यालयों एवं बाजार क्षेत्र की स्वच्छता रैंकिंग की गई है। क्या आपको स्वच्छ भारत मिशन में अपने शहर के लिए सेवा देने का अवसर मिला है या आपने प्राइवेट संस्थाओं एनजीओ स्वयं सहायता समूहों को स्वच्छ भारत मिशन में अपने शहर के लिए सहयोग करते देखा है। क्या आप जानते हैं कि आपका शहर स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 में भाग ले रहा है। क्या आप कचरे में कमी लाने के लिए ३आर रिड्यूस रियूज रिसाइकिल सिद्धांतों के बारे में जानते हैं।
लक्ष्य से कभी काफी दूर हैं
स्वच्छता सर्वेक्षण में लोगों को स्वयं फीडबैक देना चाहिए। नगरपालिका कर्मचारियों की मदद से लक्ष्य पूरा करने में काफी समय लगेगा। लोगों को आगे आकर इसके लिए पहल करना चाहिए।
- विश्वास शर्मा, नपा स्वास्थ्य अधिकारी

Show More
Mukesh Sharaiya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned