scriptPassenger's bag left at airport, CISF officer checked and was stunned | एयरपोर्ट पर छूटा यात्री का बैग, सीआइएसएफ अधिकारी ने चेक किया तो रह गया दंग | Patrika News

एयरपोर्ट पर छूटा यात्री का बैग, सीआइएसएफ अधिकारी ने चेक किया तो रह गया दंग

सीआइएसएफ के अधिकारियों ने भोपाल एयरपोर्ट पर मिले एक लावारिस बैग को उसके अमेरिका निवासी मूल मालिक तक पहुंचाकर देश सेवा का परिचय दिया। बैग में एक लाख 65 हजार रुपए नकद और दवाइयां थीं।

 

नीमच

Published: December 25, 2021 11:17:53 pm

नीमच. सीआइएसएफ के अधिकारियों ने भोपाल एयरपोर्ट पर मिले एक लावारिस बैग को उसके अमेरिका निवासी मूल मालिक तक पहुंचाकर देश सेवा का परिचय दिया। बैग में एक लाख 65 हजार रुपए नकद और दवाइयां थीं।

एयरपोर्ट पर छूटा यात्री का बैग, सीआइएसएफ अधिकारी ने चेक किया तो रह गया दंग
सीआइएसएफ के अधिकारियों ने भोपाल एयरपोर्ट पर मिले एक लावारिस बैग को उसके अमेरिका निवासी मूल मालिक तक पहुंचाकर देश सेवा का परिचय दिया। बैग में एक लाख 65 हजार रुपए नकद और दवाइयां थीं।


शुक्रवार रात 9-50 बजे इंडिगो एयरलाइंस का प्लेन भोपाल एयरपोर्ट पर उतरा था। इसमें अमेरिका निवासी महेंद्रकुमार त्रिवेदी (नीमच निवासी) पत्नी और 5 से 6 अन्य परिचितों के साथ मुंबई से आए थे। एयरपोर्ट से बाहर निकलते समय वे बैग एयरपोर्ट के अराइवल एरिया में ही भूल आए थे। रात को ड्यूटी चेंज होने पर जब सीआइएसएफ के निरीक्षक पीएल कुल्मी एयरपोर्ट पहुंचे और वहां जांच की तो उन्हें बैग लावारिस मिला। आशंका होने पर सबसे पहले बैग में विस्फोटक तो नहीं है इसकी जांच की गई। आशंका का समाधान होने पर सीसीटीवी कैमरे के सामने बैग खोलकर देखा तो उसमें एक लाख 65 हजार रुपए नकद (भारतीय और अमेरिका करंसी) थे। साथ ही कुछ कार्ड मिले थे। एक कार्ड में दिल्ली के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी (यूएनओ से सेवानिवृत्त) विजय समनौत्रा का कार्ड मिला। कार्ड पर दर्ज नंबर पर संपर्क किया गया। उन्हें बैग के बारे में बताया। उन्होंने बैग में मिले दस्तावेजों के आधार पर गुरुजी महेंद्रकुमार त्रिवेदी का बैग होने की पुष्टि की। इसके बाद मुंबई में त्रिवेदी के परिचित से संपर्क कर इंडिया का मोबाइल नंबर लेकर उन्हें बैग एयरपोर्ट पर छूट जाने की जानकारी दी। साथ ही कुल्मी व सहायक निरीक्षक विष्णुसिंह के फोन नंबर भी दिए। रात करीब 11.30 बजे त्रिवेदी छोटे भाई के साथ भोपाल एयरपोर्ट पर पहुंचे। शुक्रवार रात को इंडिगो एयरलाइंस की अंतिम फ्लाइट थी ऐसे में यात्रियों के जाने के बाद मुख्य गेट बंद कर दिए गए थे। ऐसी स्थिति में निरीक्षक कुल्मी स्वयं वाहन लेकर गेट पर पहुंचे। वे त्रिवेदी बंधुओं को आए और बैग लौटाया।

सीआइएसएफ के अधिकारी सम्मान के हकदार
आज जहां रुपए देखकर लोगों का इमान डोलते समय नहीं लगता। ऐसी विषम परिस्थितियों में भी सीआइएसएफ के निरीक्षक पीएल कुल्मी व सहायक निरीक्षक विष्णुसिंह ने एक लाख ६५ हजार रुपए लौटाकर फोर्स का नाम रोशन किया है। अमेरिका तक में ऐसे उदाहरण बिरले ही मिलते हैं। दोनों का सम्मान होना चाहिए। मैंने उच्चाधिकारियों से भी इस संबंध में उचित निर्णय लेने का अनुरोध किया है।
महेंद्रकुमार त्रिवदी, अमेरिका निवासी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.