scriptruckus in Neemuch while the Chief Minister is in Mandsaur | मुख्यमंत्री के मंदसौर में रहते नीमच में हंगामा क्यों होगा पढ़ें खबर | Patrika News

मुख्यमंत्री के मंदसौर में रहते नीमच में हंगामा क्यों होगा पढ़ें खबर

7 मई को मंदसौर में मुख्यमंत्री भूमि पूजन करने पहुंच रहे हैं

नीमच

Published: April 28, 2022 11:39:59 pm

मुकेश सहारिया, नीमच. सितंबर 2019 से नीमच जिले की जनता से मेडिकल कॉलेज के लिए संघर्ष करना प्रारंभ किया। मेडिकल कॉलेज और जमीन को लेकर नीमच जागरण मंच के बैनर तले दो बार नीमच जिला बंद पूर्णत: सफल रहा। नजीते भी जनहित में ही सामने आए। अब एक बार फिर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि नीमच जिले की जनता को फिर से सड़क पर उतरकर हक के लिए लडऩा पड़ेगा।

cm2.png
मेडिकल कॉलेज स्वीकृति तक का सफर
- २९ सितंबर २०१९ को नीमच जागरण मंच के बैनर तले आंदोलन की बनी रणनीति
- ५ अक्टूबर २०१९ को मेडिकल कॉलेज स्वीकृति के लिए नीमच जागरण मंच के बैनर तले नीमच जिला बंद किया गया, जो एतिहासिक सफल रहा।
- २ दिसंबर २०१९ को तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ, कांग्रेस नेता उमरावसिंह गुर्जर, राजकुमार अहीर व जिले की जनता के प्रयासों से नीमच को मेडिकल कॉजेल की सौगात मिली
- २ अक्टूबर २०२१ को मुख्यमंत्री के जावद आगमन पर एक बार फिर नीमच जागरण मंच के बैनर तले नीमच जिला बंद किया गया, इसका भी व्यापक असर हुआ।
- ९ नवंबर २०२१ को ग्राम कनावटी मेडिकल कॉलेज के लिए प्रदेश शासन ने एक रुपए में ९७ हजार ४५२ वर्ग मीटर जमीन आवंटित की।
- ३० नवंबर २०२१ को प्रदेश शासन ने प्रदेश के ६ मेडिकल कॉलेज के लिए राशि स्वीकृत की। इसमें नीमच के लिए २५५.७८ करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की गई।

7 मई को नीमच जिले की जनता से होगी वादाखिलाफी!
मुख्यमंत्री अपनी ही किए वादे मुकरते दिख रहे हैं। उन्होंने जावद में सार्वजनिक मंच से कहा था कि प्रदेश के सभी ६ मेडिकल कॉलेज का एकसाथ भूमि पूजन होगा और वो मैं करूंगा। अब ७ मई को मुख्यमंत्री मंदसौर में मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन करने पधार रहे हैं। इस दिन नीमच जिले की जनता स्वयं को ठगा सा महसूस करती प्रतीत होगी। नीमच में मेडिकल कॉलेज खोले जाने के लिए प्रदेश शासन की ओर से जमीन और राशि तक स्वीकृत हो चुकी है। नीमच के मेडिकल कॉलेज के लिए २५५.७८ करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की गई है। नीमच जागरण मंच के बैनर तले पिछले ढाई साल में हुए चरणबद्ध आंदोलन किए गए थे। इसी के परिणाम स्वरूप पहले मेडिकल कॉलेज स्वीकृत हुआ और बाद में राशि भी मंजूर हो गई। अब एक बार फिर नीमच जिले की जनता के साथ फिर छल होने जा रहा है। ७ मई को मुख्यमंत्री मंदसौर को मेडिकल कॉलेज की सौगात देने के लिए पहुंच रहे हैं। इस दिन नीमच की जनता के साथ वादाखिलाफी की जाएगी। नीमच में भी मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन मंदसौर के साथ ही करने की सीएम ने स्वयं घोषणा की थी। ऐसे में अब नीमच जागरण मंच ७ मई से पूर्व मेडिकल कॉलेज भूमि पूजन को लेकर कोई निर्णय नहीं होता तो एक बार फिर सड़क पर उतरने को मजबूर हो सकता है। ऐसा तब होगा जब प्रदेश के कैबिनेट मंत्री भी जनवरी २०२२ में नीमच में मेडिकल कॉलेज भूमि पूजन की बात पिछले साल कह चुके हैं। नीमच विधायक दिलीपसिंह परिहार को दो-तीन बार सीएम से व्यक्तिगत रूप से मेडिकल कॉलेज भूमि पूजन के लिए यहां आने का आमंत्रण तक सीएम को दे चुके हैं।

कांग्रेस करेगी पूर्व सीएम के आदेश का पालन
मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह जावद के सुआखेड़ा में पधारे थे। वहां पत्रकारों ने नीमच मेडिकल कॉलेज कांग्रेस की देन होने और जिला कांग्रेस संगठन की ओर से चुप्पी साधे जाने को लेकर सवाल किए थे। तब पूर्व सीएम ने जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजीत कांठेड़ को कहा था कि वे आंदोलन को लीड करें। अब जब मंदसौर में ७ मई को मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन होने जा रहा है। ऐसे में देखना यह है कि जिला कांग्रेस संगठन की क्या भूमिका रहती है। क्या फिर कांगे्रस संगठन चुप्पी साधे बैठा रहता है या जनहित में सड़क पर उतर जनता की आवाज बनता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Azam Khan Release: दो साल बाद जेल से रिहा हुए आजम खान, दोनों बेटों ने किया रिसीव, शिवपाल भी पहुंचेGyanvapi Masjid Row: ज्ञानवापी मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, हिंदू-मुस्लिम पक्ष रखेंगे अपने-अपने तर्कExclusive: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट मेंJammu Kashmir: रामबन में जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर निर्माणाधीन सुरंग का एक हिस्सा ढहा, 7 लोग फंसे, रेस्क्यू ऑपरेशन जारीभाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: नड्डा ने दिया एकजुटता का संदेश, आज पीएम मोदी बताएंगे जीत का फॉर्मूलाGood News: AIIMS दिल्ली में अब 300 रुपए तक के टेस्ट होंगे मुफ्तIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.