scriptSDM and Tehsildar's grading got brake open under Corona transition | कोरोना संक्रमण के तहत एसडीएम और तहसीलदार की ग्रेडिंग को लगा बे्रक खुला | Patrika News

कोरोना संक्रमण के तहत एसडीएम और तहसीलदार की ग्रेडिंग को लगा बे्रक खुला

- एसडीम और तहसीलदारो की ग्रेडिंग से पता चलती थी इनकी परफॉर्मेंस

नीमच

Updated: February 17, 2022 08:01:59 pm

नीमच। कोरोना संक्रमण के चलते एसडीएम और तहसीलदार के परर्फोमेंस की मासिक ग्रेडिँग पर भी बे्रक लग गया था। दूसरी लहर के बाद से इनकी ग्रेडिंग जारी नहीं हुई है। इसके माध्यम से पता चलता था कि किस अधिकारी ने अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कैसे किया है।

कोरोना संक्रमण के तहत एसडीएम और तहसीलदार की ग्रेडिंग को लगा बे्रक खुला
कोरोना संक्रमण के तहत एसडीएम और तहसीलदार की ग्रेडिंग को लगा बे्रक खुला

जिला प्रशासन अब फिर से इनकी परर्फोमेंस के आधार पर रिपोर्ट जारी करेगा। अधिकारियों के ग्रेडिंग सिस्टम से यह स्पष्ट हो जाता था कि पेडिंग मामलों की क्या स्थिति है। इसमें विभिन्न श्रेणियों के आधार पर एसडीएम और तहसीलदारों को अंक मिलते है। जिसमें कार्यालय की स्वच्छता को भी शामिल किया जाता है। इसी के आधार पर ए, बी, सी और डी ग्रेड दिया जाता था। कई अधिकारियों की माइनस मार्किंग तक हो जाती थी। पिछले साल हुई ग्रेडिग के बाद कई अधिकारियों को इधर-उधर कर दिया गया था।

अतिक्रमण को जोडऩे की मांग की गई थी
पिछले साल हुई ग्रेडिंग में जिन अधिकारियों को कम अंक मिले है। उन्होंने इसमें अतिक्रमण को भी जोडऩे की मांग की थी। अधिकारियों की दलील थी कि उन्होंने अपने क्षेत्र से बड़े अतिक्रमण हटाए लेकिन उसके अंक नहीं मिले। इस वजह से पिछड़ गए।

ग्रेडिंग में माइनस भी अंक दिए जाते है
ग्रेडिंग सिस्टम में माइनस में भी अंक दिए जाते है, अधिकारियों के मुताबिक जब एक साल से लंबित मामलों में पांच से अधिक मामले लंबित होते है तो माइनस दस अंक दिए जाते है।

इन पैरामीटर्स के आधार पर होती है ग्रेडिंग
रिपोर्ट तैयार करने में मुख्य रूप से रेवेन्यू रिकवरी, टारगेट अचीवमेंट, लोकसेवा, ऑफिस हाईजीन, राजस्व प्रकरणों का निराकरण, एक वर्ष से अधिक लंबित प्रकरण, कार्यालय स्वच्छता, नवाचार व अन्य मानक शामिल है। अधिकारियों केक काम के आधार पर उनकी रैकिंग की जाती है। पिछले साल जनवरी मे हुई ग्रेडिंग में जिले कुछ अधिकारियों को डी ग्रेड प्राप्त हुई थी। इसमें हर काम के अंक मिलते है।

दूसरी लहर के बाद बे्रक लगा था इस प्रोसेस में
जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि आंतरिक व्यवस्था के तहत एसडीएम और तहसीलदारों के कामकाज का रिव्यू करने के लिए मंथली ग्रेडिंग की जाती है। यह शासन के निर्देश के तहत नहीं थी, बल्कि रूटीन कामकाज को और बेहतर तरीके से करने के लिए इसे किया जाता था। जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्व में ग्रेडिँग एडीएम किया करते थे, कोरोना संक्रमण के चलते प्रशासनिक अधिकारियों के व्यस्त होने से ग्रेडिंग सिस्टम में ब्रेक लग गया था।

इनका यह कहना है
एसडीएम और तहसीलदार के कामकाज का रिव्यू करने के लिए मासिक ग्रेडिग की जाती थी। यह रूटिन प्रोसेस है, बीच में कोरोना माहमारी की वजह से कुछ समय से निरंतर नहीं हो पा रहा है। अधिकारियों के काम का रिव्यू नियमित होता है। कोरोना के कारण निर्धारित समय से आगे खिसक गया है। अब नियमित फिर से शुरू हो गया है।
- मयंक अग्रवाल, जिला कलेक्टर नीमच।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, पाकिस्तान भेजते थे भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारीहरियाणा के झज्जर में फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 3 की मौत 11 घायलभाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक : आज जयपुर आएंगे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, एयरपोर्ट से कूकस तक 75 स्वागत द्वार तैयारBharatpur Road Accident: भीषण सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत, मचा हाहाकारLPG Price Hike Today: घरेलू गैस की कीमत 3.50 रुपए बढ़े, कमर्शियल सिलेंडर पर 8 रुपए का इजाफाIPL के इतिहास में पहली बार होगा ऐसा, इन टीमों के बिना खेला जाएगा प्लेऑफपोर्नोग्राफी मामले में व्यवसायी राज कुंद्रा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का भी मामला दर्जज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोले
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.