यहां जूते देखते ही एक युवक के पैरों तले खिसक गई जमीन

एकता कॉलोनी के युवक के साथ हुआ कुछ ऐसा कि अब सिर पकड़कर बैठा है

नीमच. यहां एक युवक बड़ी उम्मीद से पोस्टऑफिस गया था। जितनी राशि मांगी उतनी निकालकर दी। पोस्टऑफिस कर्मचारी ने एक पार्सल उसे सौंपा। युवक ने खुशी-खुशी पार्सल खोला। लेकिन यह क्या उसमें तो जूते रहे थे। जैसे ही जूतों पर युवक की नजर पड़ी उसे पैरों तले की जमीन खिसक गई।

नकद देकर पोस्टऑफिस से छुड़ाया था पार्सल
यहां की एकता कॉलोनी निवासी राहुल सिमरिया ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ है। राहुल के पास 20 नवंबर 19 को एक फोन आया। उसे बताया गया कि आपका एमआई कंपनी का फोन है। आप पुराने कस्टमर हैं। आपको ऑफर में फोन दिया जा रहा है। ऑफर में 15 हजार रुपए का फोन मात्र साढ़े चार हजार रुपए में दिया जा रहा है। इसके साथ ही एक पर्स, घड़ी और जूते भी मिलेंगे। सस्ते में इतनी सारी सामग्री मिलने पर राहुल झांसे में आ गया। उसने फोन पर मिला ऑफर स्वीकार कर लिया। फोन पर ही राहुल को बताया गया कि जब आपको पार्सल प्राप्त हो जाएगा तब आप उसका भुगतान कर देना। 5 दिसंबर 2019 को राहुल को पोस्ट ऑफिस नीमच से फोन आया। सूचना पर वो पोस्टऑफिस पार्सल लेने पहुंचा। पार्सल लेने के लिए पूर्व निर्धारित राशि 4599 रुपए पोस्ट ऑफिस में जमाकर पार्सल छुड़ाया। पार्सल खोलते ही राहुल के पैरों तले की जमीन खिसक गई। उसमें न मोबाइल था न घड़ी और पर्स। निकले तो मात्र 300 रुपए कीमत के जूतें। राहुल ने अपने साथ हुई ठगी की जानकारी पोस्ट ऑफिस के कर्मचारियों को बताई तो उसे अनसुना कर दिया। उसे कहा कि ऐसा तो होता रहता है। पुलिस में जाकर शिकायत करो। राहुल ने अपने साथ हुई ऑनलाइन ठगी की शिकायत पुलिस अधीक्षक और बघाना थाने पर की।
पार्सल में से निकले मात्र 300 रुपए के जूते
मैंने 4599 रुपए पोस्टऑफिस में जमा कराकर पार्सल छुड़ाया था। पार्सल खोलने पर उसमें से मात्र 300 रुपए कीमत के जूते निकले। इस संबंध में मैं एससी से भी मिला। उन्होंने प्रकरण साइबर सेल को जांच के लिए दिया है। अन्य लोग इस तरह किसी अनजान फोन पर ठगी का शिकार न बनें।
- राहुल सिमरिया, पीडि़त

Mukesh Sharaiya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned