कोरोना वायरस से बचने के लिए साबुन बेहतर विकल्प

कोरोना वायरस से बचने के लिए साबुन बेहतर विकल्प

नीमच। भारत में भी कोरोना वायरस के कई मामले सामने आ चुके हैं, इस जानलेवा वायरस के फैलने के बाद शुरुआत से ही लोगों को साबुन या सेनेटाइजर से हाथ धोने की सलाह दी जा रही है।

 

चीन के वुहान शहर में पैदा हुआ कोरोना वायरस भारत सहित कई देशों को अपना शिकार बना चुका है। इस जानलेवा वायरस के फैलने के बाद शुरुआत से ही लोगों को साबुन या सेनेटाइजर से हाथ धोने की सलाह दी जा रही है। हालांकि एक नई बहस इस पर भी शुरू हो चुकी है कि वायरस से लडऩे के लिए साबुन या सैनिटाइजर में से क्या ज्यादा बेहतर है। हालांकि यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ वेल्स के प्रोफेसर पॉल थॉर्डर्सन ने कोरोना वायरस से बचने के लिए साबुन को ज्यादा बेहतर विकल्प बताया है। साबुन वायरस में मौजूद लिपिड का आसानी से खात्मा कर सकता है। दरअसल साबुन में फैटी एसिड और सॉल्ट जैसे तत्व होते हैं जिन्हें एम्फिफाइल्स कहा जाता है। साबुन में छिपे ये तत्व वायरस की बाहरी परत को निष्क्रिय कर देते हैं।

साबुन से ठीक हाथ धोने से कीटाणु मरते हैं
करीब 20 सेकंड तक हाथ धोने से वो चिपचिपा पदार्थ नष्ट हो जाता है, जो वायरस को एकसाथ जोड़कर रखने का काम करता है। आपने कई बार महसूस किया होगा कि साबुन से हाथ धोने के बाद स्किन थोड़ी ड्राइ हो जाती है और उसमें कुछ झुर्रियां पडऩे लगती हैं। दरअसल ऐसा इसलिए होता है क्योंकि साबुन काफी गहराई में जाकर कीटाणुओं को मारता है।
- डॉ. संगीता भारती, प्रभारी सीएमएचओ नीमच।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned