अफीम तोल बंद होने से किसानों की बढ़ेगी चिंता

- कोरोना वायरस के चलते 14 अप्रैल से पहले नहीं होगी तौल प्रारंभ

By: Virendra Rathod

Updated: 27 Mar 2020, 01:32 PM IST

 

नीमच। मालवा क्षेत्र के अफीम काश्तकार की मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही है। जहां पूर्व में बारिश और मौसम की मार से काश्तकार परेशान हुआ था। अब इन दिनों कोरोना वायरस के संक्रमण खतरे के चलत देशभर में लॉक डाउन के चलते १ अप्रेल से होने वाली तुलाई भी आगामी 14 अप्रेल तक के लिए स्थगित कर दी गई है। अब किसानों के लिए सबसे बड़ी मुसीबत अफीम की रखवाली करना है। मालवा क्षेत्र में नीमच, मंदसौर,ग रतलाम जिलों में कुल 37 हजार 324 किसानों ने अफ ीम की खेती की है।

 

रेवली-देवली ग्राम के अफीम काश्तकार ओमप्रकाश नागदा ने बताया कि प्रत्येक वर्ष अफीम की तुलाई करीब दो मार्च से शुरू हो जाती है और करीब-करीब १४ मार्च तक पूरी तरह से तुलाई निपट जाती है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते नारकोटिक्स विभाग द्वारा तुलाई अभी 14 अप्रेल तक स्थगित कर दी गई है। जिससे सीधा नुकसान किसानों का होना है। किसान को तो समय पर डोडा में चीरा लगाकर अफीम निकालनी है और एकत्रित करनी है। नारकोटिक्स विभाग के द्वारा दी गई बाल्टी में जो अफीम भरी जा रही है। सूखने के बाद उसमें करीब १०० से २०० ग्राम कम मात्रा में तोल आएगा। जिसका नुकसान सीधा किसान को है। वहीं अफीम की भी लगातार रखवाली करनी होगी। वहीं अभी यह निश्चित भी नहीं है कि तुलाई कब होगी। सीधेतौर पर इसका खामियाजा किसान को ही भुगतना पड़ेगा।

मालवा क्षेत्र में अफ ीम काश्तकारी के आंकड़े
- नीमच जिले में 14 हजार 618 किसानों ने की खेती
- मंदसौर जिले में 18 हजार 929 किसानों ने की खेती
- रतलाम जिले के जावरा में 3 हजार 777 किसानों की खेती

जिले में अफ ीम काश्तकारी
नीमच जिले को नारकोटिक्स ने तीन डिवीजन में बांट रखा है। जिसमें नीमच फस्र्ट डिवीजन में नीमच और जावद का क्षेत्र आता है। जिसमें 178 गांव और 3 हजार 572 काश्तकार है। नीमच सैंकड डिवीजन में रामपुरा, सिंगोली और जीरन क्षेत्र आते है। जिसमें 198 गांव में 4 हजार 511 काश्तकार है। नीमच थर्ड डिवीजन में मनासा क्षेत्र आता है। जिसमें 130 गांव और 3 हजार 502 किसान है।

14 अप्रेल तक के लिए तुलाई स्थगित
केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग ने प्रत्येक वर्ष की भांति अफीम तुलाई की तैयारी कर ली थी। एक अप्रेल से तुलाई शुरू कर दी जाती है। लेकिन अभी कोरोना वायरस के चलते प्रशासन से निर्देश के अनुसार आगामी 14 अपे्रल तक के लिए अफीम की तुलाई निरस्त कर दी गई है। आगामी आदेश के अनुसार ही तिथि तय होगी।
- प्रमोद सिंह, उपायुक्त केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो नीमच।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned