न पुलिस का खौफ, न जिंदगी की परवाह, सिपाही के सामने यात्रियों ने किया यह काम

न पुलिस का खौफ, न जिंदगी की परवाह, सिपाही के सामने यात्रियों ने किया यह काम

नीमच. प्लेटफार्म नंबर दो पर आकर रूकी रतलाम चित्तोडग़ढ़ डेमू ट्रेन से उतरे यात्री अपनी जान की परवाह किए बिना पटरी पार कर रहे थे। इस दौरान प्लेटफार्म नंबर एक पर रेलवे पुलिस भी हाथ में डंडा लिए तैनात थी। आश्चर्य की बात है कि आंखों के सामने सिपाही खड़े होने के बावजूद यात्रियों को किसी का खौफ नहीं था, हैरानी तो तब नजर आई, जब आंखों के सामने कई यात्रियों को एक साथ पटरी पार करते हुए देखने के बावजूद पुलिस द्वारा कार्रवाई का डंडा चलाना तो दूर की बात, उन्हें रोकना भी मुनासिब नहीं समझा।


यह वाक्या रविवार दोपहर करीब 1 बजे नजर आया। जब रतलाम से चलकर आई रतलाम चित्तोडग़ढ़ डेमू ट्रेन प्लेटफार्म क्रमांक 2 पर आकर रूकी थी। इस ट्रेन से सैंकड़ों यात्री नीमच रेलवे स्टेशन पर उतरे, वैसे तो प्लेटफार्म क्रमांक 2 से एक पर आने के लिए ओवर ब्रिज बना है। जिस पर सीढिय़ा भी लगी है तो स्लोप भी बना है, ताकि दिव्यांग यात्री को भी ब्रीज से आवाजाही करने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हो, वहीं आमजन के लिए सीढिय़ां भी बना दी गई है। लेकिन इसके बावजूद यात्रियों द्वारा नियम ताक में रखकर धड़्ल्ले से पटरी पार की जाती है। डेमू ट्रेन से कुछ यात्री प्लेटफार्म पर उतरने की अपेक्षा सीधे पटरियों के बीच उतरकर पटरियां पार कर रहे थे, वहीं दूसरी ओर कुछ यात्री प्लेटफार्म नंबर 2 पर उतरने के बाद भी ट्रेन निकलने के बाद पटरी पार करके ही एक नंबर प्लेटफार्म पर आकर रेलवे स्टेशन से बाहर निकले।


घर से निकलने से पहले जाने ट्रेनों की स्थिति
त्यौहार का दौर शुरू होते ही ट्रेनों में दिनों दिन रश बढऩे लगा है। ऐसे में रविवार को भी नीमच से आवाजाही करने वाली अधिकतर ट्रेनों में काफी रश नजर आया। रविवार को दोपहर रतलाम की ओर जाने वाली ट्रेन में काफी रश नजर आया, हालात यह थे कि जनरल कोच में यात्री सीटों पर जगह नहीं होने के कारण खड़े खड़े भी सफर करते हुए नजर आए। जानकारों की माने तो जैसे जैसे त्यौहार के दिन नजदीक आते जाएंगे, वैसे वैसे ट्रेनों में दिनों दिन रश बढऩे लगेगा, इस कारण अगर आप भी कहीं त्यौहार या अन्य किसी काम से बाहर जाने वाले हैं तो पहले ट्रेनों की स्थिति जरूर देखें, ताकि आपको सफर में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो।


प्रतिदिन 2 हजार से अधिक बिक रही जनरल टिकिट
नीमच रेलवे स्टेशन से प्रतिदिन वर्तमान में करीब 2000 से अधिक टिकिट बिक रहे हैं। इन टिकिटों पर प्रतिदिन करीब 3 हजार से अधिक यात्री अन्य शहरों की ओर यात्रा कर रहे हैं। वहीं इतने ही यात्री नीमच में अन्य स्थानों से आ रहे हैं। इस प्रकार करीब 4 से 5 हजार यात्रियों की प्रतिदिन आवाजाही कर रहे हंै। जो त्यौहार पर बढ़कर 8 हजार यात्री प्रतिदिन से अधिक हो जाएगी। यह आंकड़ा तो सिर्फ उन यात्रियों का है जो जनरल टिकिटों के माध्यम से यात्रा करते हैं, इसके अलावा वे यात्री भी है जो विभिन्न कोचों में रिजर्वेशन करा कर आवाजाही करते हैं।



वर्जन.
पटरी पार करना गुनाह है। यात्रियों को जागरूक रहना चाहिए, इससे उनकी जान को भी खतरा रहता है। यात्रियों की सुविधा के लिए नीमच रेलवे स्टेशन पर स्थित ब्रीज पर स्लोप व सीढिय़ां दोनों की व्यवस्था है, इस कारण यात्रियों को उनका उपयोग करना चाहिए। नियम का उल्लंघन करने पर धारा 147 रेल अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाती है। प्रतिदिन यात्रियों को जागरूक करने के लिए एलाउंस भी करवाया जाता है। अगर फिर भी यात्री नहीं मानते हैं तो नियमानुसार कार्रवाई करेंगे। साथ ही हम अभियान भी चलाएंगे।
-संजय मालसरिया, थाना प्रभारी, आरपीएफ

Subodh Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned