किसी ने दिखाई नृत्य की भावभंगिमाएं तो किसी ने छेड़ा राग

पीजी कॉलेज में वार्षिकोत्सव का हुआ आयोजन

By: harinath dwivedi

Published: 10 Feb 2018, 05:55 PM IST

नीमच। स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के वार्षिकोत्सव के दूसरे दिन विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रंगारंग प्रस्तुतियां दी। गीत, नृत्य के दौरान दर्शक दीर्घा में बैठे विद्यार्थी खुद को थिरकने से रोक नहीं पाए।
शुक्रवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम के अतिथि एसपी तुषारकांत विद्यार्थी, जिला पंचायत अध्यक्ष अवंतिका जाट, नपा अध्यक्ष राकेश जैन पप्पू, जनपद सदस्य सज्जनसिंह चौहान, भाजपा मंडल अध्यक्ष विश्वदेव शर्मा, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष गोवर्धनसिंह भीमावत और जनभागीदारी समिति अध्यक्ष शशिकांत गोयल थे। मां सरस्वती के चित्रपर माल्यार्पण और दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।
इस अवसर पर एसपी विद्यार्थी ने कहा कि युवाओं को पढ़ाई के साथ ही समाज को दिशा देने का काम भी करना चाहिए। अच्छी पढ़ाई करें और समाज को शिक्षित बनाकर विकास की राह पर ले जाएं।उन्होने कई उदाहरणों से युवाओं को देश का भाग्य विधाता बताया।जिला पंचायत अध्यक्ष अवंतिका जाट, नपा अध्यक्ष राकेश जैन पप्पू सहित अन्य अतिथियों ने भी संबोधित कर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दिया।
इसके बाद एकल गायन में ३७ छात्र-छात्राओं द्वारा प्रस्तुतियां दी गई।जबकि समूह गायन में ३ प्रस्तुतियां हुईं।नाटक, मिमिक्री, मूक अभिनय, एकल नृत्य और समूह नृत्य की प्रस्तुतियों में विद्यार्थियों ने कला का हूनर दिखाया।शाम तक प्रतियोगिताएं जारी रहीं। कार्यक्रम का संचालन प्रो.एलएन शर्मा और प्रो.संजय जोशी ने किया। कार्यक्रम में छात्रसंघ पदाधिकारियों को प्रमाण पत्र भी प्रदान किए गए।

 

छात्राओं को बताए धोखाधड़ी से बचने के तरीके
वर्तमान दौर डिजिटल का दौर है। इस दौर में समय और श्रम की बचत के लिए हर व्यक्ति डिजिटल बैंकिंग व लेनदेन उपयोग कर रहा है। लेकिन कई बार थोड़ी सी चूक के कारण व्यक्ति के साथ धोखाधड़ी हो जाती है। इस कारण चाहे एटीएम से पैसा निकालना हो या फिर अन्य डिजिटल लेनदेन करना हो, हमें सतर्क और जागरूक रहना पड़ेगा, ताकि किसी प्रकार की धोखाधड़ी का शिकार न हों। इसी के चलते शुक्रवार को सीताराम जाजू शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में 'बदलते परिवेश में वित्तीय साक्षरता एवं डिजिटल बैंकिग की आवश्यकताÓ विषय पर राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वाधान में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के सहयोग से एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम युवा पीढ़ी को वित्तीय मामलों में जागरूक करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया। कार्यक्रम के बाद महाविद्यालय में वित्तीय जागरुकता पर जिला स्तरीय निबंध , भाषण, स्लोगन एवं पोस्टर प्रतियोगिताएं आयोजित हुई। इसमें छात्राओं बढ़ चढ़कर भाग लिया।

patrika
harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned