scriptWhat was it that the girls' college girls had to go to the teaching gr | ऐसा क्या था कि कन्या कॉलेज की छात्राओं को जाना पड़ा टे्रचिंग ग्राउंड | Patrika News

ऐसा क्या था कि कन्या कॉलेज की छात्राओं को जाना पड़ा टे्रचिंग ग्राउंड

नीमच कॉलेज की छात्राओं ने गंदगी से रोजगार तलाशने के गुर सीधे

नीमच

Updated: March 29, 2022 08:54:14 pm

नीमच. जाजू कॉलेज की छात्राओं ने इको क्लब राष्ट्रीय हरित कोर की स्वच्छता कार्य योजना 2022 के अंतर्गत मंगलवार को नीमच के ठोस अपशिष्ट प्रसंस्करण केंद्र भोलियावास ट्रेंचिंग ग्राउंड का भ्रमण कर कचरा निष्पादन की विधि समझी।

patrika
ट्रेंचिंग ग्राउंड पर व्यवस्था देखते कन्या कॉलेज की छात्राएं।
150 से अधिक लोगों को मिल रहा रोजगार
नगर पालिका द्वारा संचालित इस केंद्र में नगर के सारे कचरे को अलग अलग करके निस्तारण करने की विधि नगर पालिका स्वच्छता प्रभारी श्याम टांकवाल द्वारा विस्तृत रूप से समझाई गई। नगर से रोज 50 टन कचरा हर मोहल्ले से गाडिय़ों द्वारा इकट्ठा होकर यहां लाकर मशीनों द्वारा अलग अलग किया जाता है। गीला वानस्पतिक कचरे से खाद बनाई जाती है जो आम जनता को 2 किलो में उपलब्ध कराई जा रही है। प्लास्टिक और सिंगल यूज प्लास्टिक पॉलीथिन को मशीनों द्वारा साफ किया जाता है फिर पैक किया जाता है। सार्थक एनजीओ द्वारा नगर के सारा सारे कचरा बीनने वालों को रबर का कचरा चप्पले, पन्नियों, सिंगल यूज प्लास्टिक, बोतलें, गत्ते, पेपर आदि को अलग कर खरीदा जाता है। शहर के 150 कचरा बीनने वालों को एक ही जगह इस तरह रोजगार मिल रहा है। इस अलग कचरे को सार्थक संस्था खरीदती है। बड़े गाडिय़ों द्वारा यह खरीदकर रीसाइक्लिंग के लिए बाहर भेजा जाता है।

फीडबैक देेेकर स्वच्छता सर्वेक्षण में करेंगे सहयोग
नगर के 30 अस्पतालों का मेडिकल वेस्ट अलग से गाडिय़ों द्वारा लाकर इंसीनरेटर में जलाया जाता है। शहर के घरों के शौचालयों के सेफ्टी टैंक की सफाई कर मल को इकट्ठा कर स्लज बैंड द्वारा फिल्टर करके प्रोसेसिंग करके खाद बनाई जा रही है। शहर के मंदिरों, सब्जी मंडी और घरों का गीला कचरा से कंपोस्टिंग कर खाद बनाई जाती है। कुछ ही दिनों में नवीन आधुनिक बड़ी बड़ी मशीनें मंगवाकर कचरा निस्तारण करने की जानकारी दी। उन्होंने उपस्थित छात्राओं को कचरा इधर उधर न डालकर सीधे गाड़ी में डालने की समझाइश दी। इससे नगर स्वच्छ रहे और स्वच्छता सर्वेक्षण में नगर की रैंकिंग में हम ऊंचे पायदान पर आए। सबके सहयोग से ही यह संभव है। छात्रओं ने भी फीडबैक देकर नगर को स्वच्छता सर्वेक्षण में ऊपर लाने में सहयोग देने का संकल्प लिया। छात्राओं के साथ इको क्लब प्रभारी डा. साधना सेवक, डा. प्रियंका डलवान, प्रोफेसर मनीषा भरंग आदि उपस्थित थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasus Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईRaj Thackeray Ayodhya Visit: राज ठाकरे की अयोध्या यात्रा स्थगित, पांच जून को रामलला का दर्शन करने वाले थे मनसे प्रमुखRohit Joshi Rape Case: राजस्थान के मंत्री पुत्र ने अब युवती पर लगाया हनीट्रेप का आरोप, हाईकोर्ट में याचिकापाकिस्तानी विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने अमरीका में छेड़ा कश्मीर राग, आर्टिकल 370 का भी किया जिक्र, कहा शांति चाहता है पाकिस्तानलालू के ठिकानों पर CBI Raid; सामने आई RJD की पहली प्रतिक्रिया, मात्र 5 शब्द में पूरे सिस्टम को लपेटाअनिल बैजल के इस्तीफे के बाद कौन होगा दिल्ली का उपराज्यपाल? चर्चा में हैं ये 5 नाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.