Adani Green Energy ने 205 मेगावॉट की 10 सौर परिसंपत्तियों का किया अधिग्रहण

  • Adani Green Energy ने एस्सेल ग्रीन एनर्जी और एस्सेल इन्फ्राप्रोजेक्ट्स से 205 मेगावॉट की सौर परिसंपत्तियों का किया अधिग्रहण

By: Pratibha Tripathi

Published: 01 Oct 2020, 03:27 PM IST

नई दिल्ली: देश की जानी-मानी कंपनी अडाणी ग्रीन एनर्जी इपनी कपनी के एक्सपेंशन में लगातार लगी है। इसी कड़ी में अडाणी ग्रीन एनर्जी एस्सेल ग्रीन एनर्जी और एस्सेल इन्फ्राप्रोजेक्ट्स के विभिन्न राज्यों में संचालित 205 मेगावॉट क्षमता के सोलर प्रोजेक्ट्स जो मौजूदा समय में संचालित है उन सभी सौर परिसंपत्तियों का अडाणी ग्रीन एनर्जी ने अधिग्रहण पूरा कर लिया है। विदित हो अडाणी ग्रीन एनर्जी (एजीईएल) जो 29 अगस्त, 2019 को एस्सेल ग्रीन एनर्जी और एस्सेल इन्फ्राप्रोजेक्ट्स से उसके 205 मेगावॉट क्षमता की 10 सौर ऊर्जा परिसंपत्तियों को 1,300 करोड़ रुपये में सौदा किया था जिसके अधिग्रहण की घोषणा की थी।

एजीईएल यानी अडाणी ग्रीन एनर्जी ने शेयर बाजारों को सूचित कर उसके लोकेशन की जानकारी दी दिसमें बताया कि सभी 10 संपत्तियां पंजाब, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में मौजूद हैं। खास बात यह है कि अडाणी ग्रीन एनर्जी ने जिन प्रोजेक्ट्स का अधिग्रहण किया है उन सभी का विभिन्न राज्यों की बिजली वितण कंपनियों के साथ दीर्घ कालीन बिजली खरीदने का करार (पीपीए) है। इससे भी बड़ी बात यह है कि ये सभी प्रोजेक्ट अभी नए हैं और सभी के अनुमानित पीपीए अभी करीब 21 साल तक बचे हैं।

अडाणी ग्रीन एनर्जी के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) विनीत जैन का कहना है कि, ‘‘एजीईएल यानी अडाणी ग्रीन एनर्जी को 2025 तक 25 गीगावॉट की अक्षय ऊर्जा कंपनी बनाने का लक्ष्य है, और यह अधिग्रहण उसी दिशा में उठाया गया एक कदम है।''

Gautam Adani
Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned