लेटकर दुनिया नापेंगे यह बाबा, हुआ कुछ ऐसा कि दिल्‍ली पुलिस को रोकनी पड़ी उनकी यात्रा

लेटकर दुनिया नापेंगे यह बाबा, हुआ कुछ ऐसा कि दिल्‍ली पुलिस को रोकनी पड़ी उनकी यात्रा

Mazkoor Alam | Publish: Aug, 25 2018 06:01:56 PM (IST) New Delhi, Delhi, India

बाबा जब सड़क पर लेट कर आगे बढ़ रहे थे तो उनकी सुरक्षा में एम्‍बुलेंस के साथ दिल्ली पुलिस की गाड़ी और कॉन्सटेबल भी लगे थे।

नई दिल्‍ली : देश की राजधानी में रोज-रोज कुछ ऐसी घटना होती है, जिस कारण पुलिस और प्रशासन को नई-नई समस्‍याओं से जूझना पड़ता है, लेकिन शुक्रवार को विकास मार्ग पर एक अनोखी घटना के कारण भयानक जाम लग गया। इससे निबटने में पुलिस को काफी परेशानी आई।

ये है मामला
बता दें कि उत्‍तर प्रदेश के बदायूं के स्वयंभू बाबा उर्फ राहुल शर्मा सिर्फ एक चटाई लेकर शरीर के जरिये दुनिया नापने निकले हैं। अपनी यात्रा के दौरान शुक्रवार को वह दिल्‍ली में थे। जब वह विकास मार्ग पर डिवाइडर की दूसरी तरफ लेटकर अपनी यात्रा कर रहे थे तो उनको देखने वालों की भीड़ तो बढ़ती ही गई, साथ में उनके सड़क पर होने के कारण भी ट्रैफिक जाम की स्थिति बन गई। इस वजह से पुलिस को ट्रैफिक रोकना पड़ा। स्‍वयंभू बाबा की इस अनोखी जिद के कारण किसी तरह की अनहोनी न हो जाए, इस वजह से उनके साथ पुलिस दल-बल के साथ एक एंबुलेंस भी चल रहा था।

एंबुलेंस के साथ दिल्‍ली पुलिस की गाड़ी भी थी
स्‍वयंभू बाबा जब सड़क की डिवाइडर की एक ओर लेट कर आगे बढ़ रहे थे तो उनकी सुरक्षा और सुविधा के लिए एम्‍बुलेंस के साथ दिल्ली पुलिस की गाड़ी और उसके साथ कुछ कॉन्सटेबल भी चल रहे थे। ऊनकी इस अनोखी यात्रा को देखने के लिए वहां मौजूद लोगों के साथ गाड़ियां भी रुकने लगी, साथ में उनके रोड पर लेटकर आगे बढ़ने के कारण उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस ने रास्‍ता खाली करवा रखा था। इस बीच वहां मौजूद लोग स्‍वयंभू बाबा के साथ सेल्फी लेने लगे। इस कारण जब वहां जबरदस्‍त जाम लगने लगा तो आखिरकार पुलिस का जबरन उन्‍हें रोड से उठा कर अपने साथ ले जाना पड़ा। पुलिस उन्‍हें शकरपुर थाने ले गई।

स्‍वयंभू बाबा ने कहा यात्रा का 96वां दिन
स्‍वयंभू बाबा उर्फ राहुल शर्मा ने दावा किया यह उनकी यात्रा का 95वां दिन था। उन्‍होंने गुरुवार को पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके से जब अपनी यात्रा शुरू की तो यह उनका 95वां दिन था। उन्‍होंने एक मीडिया से बात करते हुए कहा कि वह अपने शरीर से दुनिया नापना चाहते हैं। इसके अलावा उनकी कुछ मांग भी है, जो वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिल कर उनके सामने रखना चाहते हैं। राहुल ने अपने परिवार के बारे में बताते हुए कहा कि कुछ साल पहले वह अपने माता-पिता से बिछड़ गए थे। अब वह कहां हैं, उनका उनहें कुछ पता नहीं। एक भाई है, वह मानसिक रूप से कमजोर है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned