बुराड़ी केसः 23 दिन भी जुदाई बर्दाश्त नहीं कर पाया टॉमी, क्या आत्माओं से कर रहा था बात?

भाटिया फैमिली के सदस्यों से एक महीने की जुदाई भी बर्दाश्त नहीं कर पाया टॉमी। 23 दिन के अंदर ही जिंदगी को कर दिया अलविदा।

By: धीरज शर्मा

Published: 23 Jul 2018, 11:17 AM IST

नई दिल्ली। दिल्ली के बुराड़ी में 11 मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस के आगे अब एक और रहस्य खड़ा हो गया है। ये रहस्य है मौत के वक्त घर में मौजूद 12 वें सदस्य टॉमी की मौत का। जी हां भाटिया फैमिली के वफादार डॉग टॉमी ने भी दिल दौरा पड़ने से जिंदगी का साथ छोड़ दिया है। टॉमी की मौत के बाद से ही कई तरह के कयास लगने भी शुरू हो गए हैं। कयासों पर गौर करें तो शायद टॉमी उन 11 सदस्यों की आत्माओं से जुड़ा हुआ था, या फिर उनकी जुदाई को बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था, या फिर उसे सदमा इतना गहरा लगा कि उससे उबर ही नहीं पाया। ऐसे की कई सवाल अब पुलिस के लिए उलझन बनते जा रहे हैं।

बुराड़ी केसः नहीं रहा भाटिया परिवार का सबसे वफादार सदस्य, हार्ट अटैक से हुई मौत
डॉग देख सकते हैं आत्माएं!
ऐसे कई फिल्में आपने देखी होंगी जिसमें डॉग आत्मा को देख सकते हैं, या फिर उन्हें किसी साये का अंदाजा पहले ही हो जाता है। यही नहीं डॉग होनी को भी इंसानों से पहले ही भांप लेते है। भूकंप आने वाला हो, अंजान या अज्ञात व्यक्ति आस-पास आने की कोशिश कर रहा हो तो डॉग पहले से ही जोर जोर से भौंकने लगते हैं। बुराड़ी केस में भी ऐसी संभावनाओं को नकारा नहीं जा सकता।

1 जुलाई को जब 11 सदस्यों ने मिलकर मोक्ष के लिए मौत को गले लगाने का मन बनाया तो उस वक्त इन सदस्यों के अलावा घर में जो मौजूद था वो टॉमी ही था। हालांकि उसे छत पर बांधा गया था, लेकिन इस पूरे घटनाक्रम का कोई साक्षी था तो वो टॉमी ही था। ऐसे में संभावना ये भी हो सकती है कि टॉमी को इन 11 सदस्यों की आत्माएं दिखाई देती हों, उसे अपने पास बुला रही हों। या फिर टॉमी इन आत्माओं को देखकर सदमें में हो।

मौसम विभाग का ताजा अपडेट, अगले 24 घंटों में उत्तर पूर्वी भारत से लेकर तटीय इलाकों में होगी भारी बारिश

जुदाई नहीं कर पाया बर्दाश्त
मौत के वक्त जब पुलिस ने छत पर टॉमी को देखा था, उस वक्त उसकी तबीयत ठीक नहीं थी। टॉमी के काफी बुखार था। ऐसे में टॉमी को पशुओं के लिए काम करने वाले संजय महापात्रा को सौंपा गया था। हालांकि कुछ समय बाद उन्होंने दावा किया था कि टॉमी की सेहत में सुधार हो रहा है, लेकिन 11 सदस्यों की मौत के 23 दिन के अंदर ही टॉमी ने जिंदगी को अलविदा कह दिया। टॉमी भाटिया फैमिली के सदस्यों से एक महीने की जुदाई भी बर्दाश्त नहीं कर पाया।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned