Coronavirus Lockdown: तेलंगाना सरकार 15 दिन के लिए बंद कर सकती है ग्रेटर हैदराबाद

  • शहर में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस केस ( coronavirus cases ) को लेकर तेलंगाना सरकार ( Telangana Govt ) की बढ़ी चिंता।
  • मुख्यमंत्री केसीआर ( Chief Minister K Chandrasekhar Rao ) ने रविवार को बैठक बुलाकर लॉकडाउन ( coronavirus lockdown latest update ) पर फैसले के लिए कहा।
  • शहर ( Greater Hyderabad Municipal Corporation ) में दिन में केवल एक-दो घंटे खरीदारी की छूट के अलावा बाकी वक्त लागू रहेगा कर्फ्यू ( coronavirus lockdown )।

हैदराबाद। तेलंगाना सरकार ( Telangana Govt ) ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो कोरोना वायरस के तेजी से प्रसार ( coronavirus cases ) को रोकने के लिए बोली ग्रेटर हैदराबाद में कम से कम 15 दिनों के लिए लॉकडाउन ( coronavirus lockdown) को लागू करने का फैसला लेगी। सरकार ने रविवार को कहा कि वो जल्द ही तारीखों पर फैसला करेगी।

Unlock 2.0 की घोषणा 30 जून को! इन जरूरी सेवाओं पर होगा मुख्य फोकस

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने कहा कि सरकार ने शहर को दो सप्ताह के लिए बंद करने की योजना को पहले ही पुख्ता कर लिया है, लेकिन रविवार की घोषणा लोगों को जल्द ही इसके सख्त ढंग से लागू होने पर तैयारी किए जाने को लेकर की गई थी।

शहर में हर दिन तकरीबन कोरोना वायरस के 1,000 नए मामले सामने आने पर तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ( Chief Minister K Chandrasekhar Rao ) ने रविवार को एक समीक्षा बैठक में इस योजना पर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने कहा, "अगर लॉकडाउन लगाया जाता है, तो इसे सख्ती से और पूरी तरह से लागू किया जाना चाहिए। आवश्यक चीजों की खरीदारी के लिए एक या दो घंटे की छूट के अलावा बाकी पूरे दिन का कर्फ्यू होना चाहिए। उड़ानें और ट्रेनें रोकनी पड़ेंगी। सरकार की ओर से सभी इंतजाम किए जाएं। इसलिए, हम सभी मुद्दों की जांच करेंगे और फैसला लेंगे।"

तेलंगाना CM KCR ने रखी लॉकडाउन अवधि बढ़ाने की मांग, बोले-अर्थव्यवस्था सुधर सकती है लेेकिन...

लॉकडाउन लागू ( coronavirus lockdown latest update ) किए जाने को लेकर अगले तीन से चार दिनों में फैसला लिए जाने की संभावना है। इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री एटाला राजेंदर ने कहा कि कई चिकित्सा विशेषज्ञों ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जीएचएमसी ( Greater Hyderabad Municipal Corporation ) में 15 दिनों के लॉकडाउन को एक और सुझाव दिया है।

देशभर में फिर से लागू होगा लॉकडाउन? रेलवे ने 12 अगस्त तक सभी यात्री ट्रेनें कैंसल कीं

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के अन्य प्रमुख शहरों की तरह हैदराबाद में भी कोरोना वायरस का प्रसार अधिक था और और लॉकडाउन हटाए जाने के बाद लोगों ने घूमना शुरू कर दिया। चेन्नई में भी कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन फिर से लगाया गया था।सीएम ने कहा कि देश के अन्य शहर भी इसी तरह का विचार कर रहे हैं और बैठक के दौरान महामारी विशेषज्ञों ने सुझाव दिया था कि COVID-19 के वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए लॉकडाउन को फिर से लागू करना एक अच्छा कदम होगा।

चंद्रशेखर राव ने आगे कहा, "सरकारी मशीनरी और लोगों को इसके लिए तैयार किया जाना चाहिए। खासकर पुलिस विभाग को तैयार रखा जाए। कैबिनेट की बैठक बुलाई जाए। सभी संबंधित लोगों से विचार लेकर लॉकडाउन पर निर्णय लिया जाना चाहिए। आइए तीन दिनों के लिए स्थिति की जांच करें। अगर जरूरत पड़ी तो लॉकडाउन, इसके विकल्प और अन्य संबंधित मुद्दों के प्रस्तावों पर चर्चा के लिए तीन से चार दिनों में कैबिनेट की बैठक बुलाई जाएगी।"

हालांकि, सीएम ने कहा कि शहर में ज्यादा पॉजिटिव मामले सामने आने के कारण चिंतित या डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सभी जरूरतमंदों को समुचित इलाज दिए जाने की व्यवस्था की है।

कोरोना वायरस महामारी से बचाने के के लिए एसी ट्रेन की हवा को लेकर भारतीय रेलवे का नया प्रयोग

स्वास्थ्य मंत्री राजेंदर ने मौजूदा हालात के बारे में बताते हुए कहा कि देश में अन्य जगहों की तरह तेलंगाना में भी कोरोना वायरस फैल रहा था। हालांकि, तेलंगाना में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत से कम थी। उन्होंने कहा कि पॉजिटिव मरीजों जरूरी इलाज दिया जा रहा है और सरकारी और निजी अस्पतालों और कॉलेजों में हजारों बिस्तर लगाए गए हैं।

उन्होंने कहा, "गंभीर हालत में आने वाले मरीजों का अस्पतालों में इलाज किया जाता है। बिना लक्षण या स्पर्शोन्मुख मरीजों का इलाज उनके घरों में किया जा रहा है।"

coronavirus cases
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned