दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके, जानमाल के नुकसान की खबर नहीं

दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके, जानमाल के नुकसान की खबर नहीं

prashant jha | Publish: Sep, 09 2018 05:40:35 PM (IST) New Delhi, Delhi, India

दिल्ली-एनसीआर में एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।

नई दिल्ली: दिल्ली एनसीआर की धरती एक बार फिर हिली है। भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। शाम 4:35 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता 4:0 मापी गई है। भूकंप के आते ही लोग घरों से निकलकर बाहर आ गए । लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। हालांकि अभी तक किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है।

 

जम्मू में 3.2 था रिक्टर पैमाना

बता दें कि 6 सितंबर को जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। जानकारी के मुताबिक, जम्मू कश्मीर में गुरुवार की सुबह भूंकप आया। कई जिलों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। भूकंप की रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3.2 मापी गई है। हालांकि, इस घटना में किसी तरह के नुकसान की जानकारी सामने नहीं आई थी। सुबह 8 बजकर 34 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। लेकिन, तीव्रता कम होने की वजह से किसी भी नुकसान की खबर नहीं है। आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि लोगों को अचानक हल्का झटका महसूस हुआ, इसके बाद चला कि यह भूकंप के झटके थे।

जुलाई में भी आया था भूकंप

गौरतलब है कि 1 जुलाई 2018 को भी दिल्ली एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। 3 बजकर 37 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए । भूकंप की तीव्रता 4.0 मापी गई थी। दिल्ली के नरेला में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। वहीं हरियाणा के रोहतक में भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र हरियाणा का सोनीपत था।

 

ऐसे मापी जाती है भूकंप की तीव्रता

गौरतलब है कि जब भी भूकंप के झटके महसूस किए जाते हैं तो उसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर मापी जाती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि रिक्टर स्केल पर अगर भूकंप की तीव्रता 6 से कम होती है तो उसे नुकसानदायक नहीं कहा जा सकता। वहीं अगर यह तीव्रता 7 से 9 के बीच मापी जाती है तो इमारतों के गिरने और समुद्री तूफान आने का खतरा होता है। जब भूकंप 9 से ऊपर के रिक्टर स्केल पर आता है तो भारी तबाही का कारण बन जाता है।

Ad Block is Banned