20 जुलाई को देश को मिलेगा नया राष्ट्रपति, 17 जुलाई को वोटिंग

20 जुलाई को देश को मिलेगा नया राष्ट्रपति, 17 जुलाई को वोटिंग
Ec announce presidential election

Prashant Kumar Jha | Updated: 07 Jun 2017, 06:27:00 PM (IST) New Delhi, Delhi, India

देश को 20 जुलाई को नया राष्ट्रपति मिल जाएगा।निर्वाचन आयोग ने आज देश के सबसे संवैधानिक पद राष्ट्रपति के चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया. राष्ट्रपति पद का चुनाव के लिए चुनाव आयोग 14 जून को नोटिफिकेशन जारी करेगा और 17 जुलाई को वोट डाले जाएंगे। 

निर्वाचन आयोग ने आज शाम राष्ट्रपति पद के चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया।राष्ट्रपति पद का चुनाव के लिए चुनाव आयोग 14 जून को नोटिफिकेशन जारी करेगा। नामांकन भरने की आखिरी तारीख 28 जून होगी। नए राष्ट्रपति के लिए मतदान17 जुलाई को होगा और 20 जुलाई को मतगणना होगी। सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक काउंटिंग होगी। 

खास पेन का होगा इस्तेमाल
चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने कहा- राष्ट्रपति चुनाव बैलेट पेपर पर होंगे। चुनाव आयोग बैलेट पर पर टिक करने के लिए एक खास पेन मुहैया कराएगा। किसी और पेन का उपयोग करने पर वोट अवैध माना जाएगा। चुनाव आयोग ने कहा, राष्ट्रपति चुनाव को लेकर कोई भी पार्टी अपने विधायक, सांसद को व्हिप जारी नहीं कर सकती है।


अधिसूचना-14 जून
नामांकन की आखिरी तारीख-28 जून
नामांकन की जांच-29 जून
नामांकन की वापसी-1 जुलाई
चुनाव-17 जुलाई
मतगणना- 20 जुलाई
गौरतलब है कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 25 जुलाई को समाप्त हो रहा है। मोदी सरकार और विपक्ष ने फिलहाल अपने पत्ते नहीं खोले है। वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में एनडीए का पलड़ा भारी नजर रहा है। दूसरी ओर सोनिया गांधी ने विपक्षी एकता का आह्वान किया। शुक्रवार को उन्होंने संसद भवन में विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक की है। 


क्या है राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया ?
भारत में राष्ट्रपति चुनाव अप्रत्यक्ष मतदान से होता है। लोगों की जगह उनके चुने हुए प्रतिनिधि राष्ट्रपति को चुनते हैं। राष्ट्रपति का चुनाव एक निर्वाचन मंडल या इलेक्टोरल कॉलेज करता है। इसमें संसद के दोनों सदनों (लोकसभा और राज्यसभा) और राज्यों की विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य शामिल होते हैं। इसमें राज्यसभा में राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत सदस्य मतदान में हिस्सा नहीं लेते हैं। दो केंद्रशासित प्रदेशों, दिल्ली और पुडुचेरी के विधायक भी चुनाव में हिस्सा लेते हैं जिनकी अपनी विधानसभाएं हैं।


राष्ट्रपति की रेस में एनडीए की ओर से चल रहे ये नाम
– झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू
– आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत
– केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत
– लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन
– केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू
– बीजेपी सांसद पूर्व केंद्रीय मंत्री हुकुमदेव नारायण यादव


UPA की ओर से राष्ट्रपति की रेस में
– जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव
– एनीसीपी अध्यक्ष शरद पवार
– पूर्व राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी
– पूर्व स्पीकर मीरा कुमार

हर वोट का अपना मूल्य
राष्ट्रपति चुनाव में अपनाई जानेवाली आनुपातिक प्रतनिधित्व प्रणाली की विधि के हिसाब से प्रत्येक वोट का अपना मूल्य होता है। सांसदों के वोट का मूल्य निश्चित है मगर विधायकों के वोट का मूल्य अलग-अलग राज्यों की जनसंख्या पर निर्भर करता है। 1971 की जनगणना के अनुसार, राज्य की जनसंख्या को वहां की विधानसभा के निर्वाचित सदस्यों की संख्या से भाग दिया जाए, परिणाम में जो भी संख्या आए, उसे फिर से 1000 से भाग दिया जाए। इसके बाद जो परिणाम निकलेगा, वह उस राज्य के एक विधायक के वोट की वैल्यू होगी। जैसे देश में सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश के एक विधायक के वोट का मूल्य 208 है तो सबसे कम जनसंख्या वाले प्रदेश सिक्किम के वोट का मूल्य मात्र सात।

4120 विधायकों और 776 सांसदों को मिलाकर चुनाव मंडल
दूसरी ओर प्रत्येक सांसद के वोट का मूल्य 708 है। देशभर के 4120 विधायकों और 776 सांसदों को मिलाकर चुनाव मंडल बनता है। उनके मतों का कुल मूल्य 10, 98, 882 बनता है और जीतने के लिए 5,49,442 मत की जरूरत है।  

 मोदी सरकार बहुमत से कितनी दूर
एनडीए सरकार के पास फिलहाल 5,37,614 वोट है। उसे वाईएसआर कांग्रेस के 9 सांसदों का समर्थन मिल गया है। इसके अलावा एनडीए की नजर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की पार्टी बीजेडी पर है। इन दोनों दलों में से कोई अगर एनडीए के साथ आ जाता है तो उनका उम्मीदवार आसानी से जीत जाएगा। दूसरी ओर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, सीपीएम, बीएसपी, आरजेडी जैसे प्रमुख विपक्षी दल संयुक्त उम्मीदवार उतारने की कवायद में है। इनके पास फिलहाल  4,02,230 इतने वोट है। इसके अलावा गैर यूपीए-एनडीए दलों के पास करीब 1.60 लाख मत है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned