बीता दशक 2020 - चार बड़े फैसले, आर्थिक सुधारों ने छोड़ी गहरी छाप

जीएसटी के जरिए टैक्स सुधार किए गए। नोटबंदी में 1000 और 500 के पुराने नोट बंद कर दिए गए।

By: विकास गुप्ता

Published: 18 Dec 2020, 03:53 PM IST

बीते एक दशक में कई बड़े आर्थिक कदम उठाए हैं, जिन्होंने अर्थव्यवस्था पर गहरा प्रभाव डाला है, टैक्स व्यवस्था में सुधार हुआ। इसमें नोटबंदी, जीएसटी, इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड का कानून प्रमुख हैं। जीएसटी के जरिए टैक्स सुधार किए गए। नोटबंदी में 1000 और 500 के पुराने नोट बंद कर दिए गए। बीते दशक में चार बड़े आर्थिक सुधार किए गए जिनसे देश की अर्थ व्यवस्था पर बड़ा असर पड़ा।

तारीख - 31. 05. 2011 -
2011 में जीडीपी 6.2 प्रतिशत तक नीचे आ गई थी। जो एक दशक का निचला स्तर था। कोरोना के चलते 2020 में जीडीपी -23.9 प्रतिशत में चली गई है, लेकिन अब यह -7.5 प्रतिशत (पिछली तिमाही) आ गई है।

तारीख - 06 . 05 . 2016 -
भारतीय अर्थव्यवस्था का और ज्यादा आधुनिक आकार लेने के साथ ही बैंकों से वित्तीय धांधली पर लगाम लगाने के लिए मई 2016 को नया इनसॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कोड लागू हुआ।

तारीक 08 . 11 . 2016 -
भारत में 1 जुलाई 2017 से लागू जीएसटी एक महत्वपूर्ण अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था थी, जिसे सरकार और अर्थशास्त्रियों द्वारा स्वतंत्रता के पश्चात सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बताया है।

Prediction for 2021
विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned