scriptMomin will go on Haj after two years, first Indian batch | Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवाना | Patrika News

Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवाना

Haj 2022: कोविड (Covid) महामारी के चलते करीब दो साल बाद भारत (India) से मोमिन हज के लिए सऊदी अरब (Saudi Arabia) जाएंगे। अभी भी कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocal) के चलते हज के लिए भारत का कोटा करीब 79 हजार पर सीमित किया गया है। वहीं भारत सरकार की ओर से हज के लिए तैयारी जोर-शोर से चल रही है। केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलात मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने सोमवार को हज 2022 प्रतिनियुक्तियों (Haj Deputation-2022) के लिए दो दिवसीय अनुकूलन-सह-प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन किया। हज के लिए 4 जून से उड़ान शुरू होंगी। पढि़ए.....हज के लिए मोमिनों के लिए सरकार ने क्या खास तैयारियां की है।

नई दिल्ली

Updated: May 24, 2022 07:20:20 am

Haj 2022: नकवी ने कहा कि हज सब्सिडी को राजनीतिक छल को पारदर्शिता और वितरण के साथ निर्णय के प्रति वचनबद्धता के साथ समाप्त किया है। ऐसी व्यवस्था की है कि दो वर्ष बाद हज करने वाले हज यात्रियों पर अनावश्यक वित्तीय बोझ नहीं पड़ेगा। नकवी ने कहा कि 79,237 भारतीय मुसलमान हज 2022 के लिए जाएंगे। इनमें करीब 50 प्रतिशत महिलाएं शामिल हैं। इनमें से 56,601 भारतीय मुसलमान हज कमेटी ऑफ इंडिया और 22,636 मुस्लिम हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स (एचजीओ) के जरिए हज के लिए जाएंगे। मेहरम (पुरुष साथी) के बिना लगभग 2000 मुस्लिम महिलाएं हज के लिए जाएंगी।
haj-11.jpg
यहां से मिलेंगी उड़ान
भारतीय हज समिति के माध्यम से हज 2022 के लिए अहमदाबाद (Ahmedabad), बेंगलुरु (Bengaluru), कोचीन (Cochhi), दिल्ली (Delhi), गुवाहाटी (Guvahati), हैदराबाद (Hyderabad), कोलकाता (Kolkata), लखनऊ (Luckhnow), मुंबई (Mumbai) और श्रीनगर (Sri Nagar) हवाई अड्डे से जा सकेंगे। हज 2022 के लिए उड़ानें 4 जून से शुरू होंगी।

357 समन्वयकों की प्रतिनियुक्ति

भारतीय हज यात्रियों की सहायता के लिए सऊदी अरब में कुल 357 हज समन्वयक, सहायक हज अधिकारी, हज सहायक, डॉक्टर और पैरामेडिक्स तैनात किए जाएंगे। इनमें 04 हज समन्वयक, 33 सहायक हज अधिकारी, 143 हज सहायक, 73 डॉक्टर और 104 पैरामेडिक्स शामिल हैं। इन प्रतिनियुक्तियों में 49 महिलाओं को तैनात किया जा रहा है, जिनमें से 01 सहायक हज अधिकारी, 03 हज सहायक, 13 डॉक्टर और 32 पैरामेडिक्स शामिल हैं। दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में हज प्रतिनियुक्तों को हज यात्रा, मक्का (Mecca) और मदीना (Medina) में आवास, परिवहन, स्वास्थ्य सुविधाओं, सुरक्षा उपायों आदि के बारे में सभी जानकारी दी जा रही है। उन्हें मक्का (एनसीएनटी ज़ोन और अज़ीजय़िा में प्रधान कार्यालय और शाखाएँ, औषधालय और अस्पताल), मदीना (कार्यालय और शाखाएँ, औषधालय और अस्पताल और मदीना हवाई अड्डा) और जेद्दा हवाई अड्डे पर तैनात किया जाएगा। अज़ीजय़िा में 2 अस्पताल और 10 शाखा औषधालय स्थापित किए गए हैं। मक्का में एनसीएनटी जोन में 01 शाखा औषधालय, भारतीय हज यात्रियों को उचित स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए मदीना में 03 शाखा औषधालय और एक अस्पताल स्थापित किया गया है।
...


सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.