Punjab Assembly Elections 2022: होर्डिंग्स के बाद अब बसों से भी हटाई जाएंगी कैप्टन अमरिंदर सिंह की तस्वीर

चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh channi) के पंजाब की सीएम बनने के बाद अब राज्य में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (captain amrinder singh) की होर्डिंग और तस्वीरों को हटाया जा रहा है। बता दें कि चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh channi) के मुख्यमंत्री पद की कमान संभालते ही उसी रात को राज्य में बड़ी संख्या में कैप्टन अमरिंदर सिंह की होर्डिंग्स उतार दी गई थीं।

By: Nitin Singh

Updated: 22 Sep 2021, 06:21 PM IST

नई दिल्ली। चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh channi) की ताजपोशी के पंजाब कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव (punjab assembly election 2022) की तैयारियां जोर कर दी हैं। वहीं अब राज्य में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (captain amrinder singh) की होर्डिंग और तस्वीरों को हटाया जा रहा है। बता दें कि चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh channi) के मुख्यमंत्री पद की कमान संभालते ही उसी रात को राज्य में बड़ी संख्या में कैप्टन अमरिंदर सिंह की होर्डिंग्स उतार दी गई थीं। वहीं अब पंजाब की सरकार बसों से भी पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तस्वीरों को हटाने का आदेश दिया गया है।

दरअसल, सूचना और लोक संपर्क विभाग द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि पी. आर. टी. सी. की बसों से पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (punjab former cm) के तस्वीरों को तुरंत हटाया जाए। इतना ही नहीं पी. आर. टी. सी. के सभी जनरल मैनेजरों को आदेश भी जारी कर दिया गया है। इसके चलते पी. आर. टी. सी. की उन बसों को हटाने का निर्देश दिया गया है, जिनमें पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की तस्वीरों वाली बसों को तुरंत हटाने का निर्देश दिया है।

चुनाव की तैयारियों में जुटी कांग्रेस

बता दें कि पंजाब कांग्रेस विधानसभा चुनाव (punjab assembly elections) के मद्देनजर वोट बैंक को साधने की कोशिशों में लग गई है। मुमकिन है कि अब इन बसों पर पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (charanjit singh chann) की तस्वीरें लगाईं जाए। कहा जा रहा है कि पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी ऐसी कोई कारण नहीं चाहती, जिसके लिए पार्टी को बाद में पश्चाताप करना पड़े।

यह भी पढ़ें: नवजोत सिंह सिद्धू की इमेज क्लीनिंग में जुटी कांग्रेस, कहीं ये विधानसभा चुनाव की तैयारी तो नहीं?

गौरतलब है कि बीते दिनों कैप्टन अमरिंदर सिंह (amrinder singh) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से फोन पर बात करने के बाद पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। कैप्टन ने कहा था कि वे पार्टी में अपमानित महसूस कर रहे थे, इसीलिए उन्होंने यह फैसला लिया। राजनीतिक जानकारों की मानें तो चुनाव के चलते विधायकों में कैप्टन के प्रति अविश्वास को देखते हुए पार्टी ने उनसे इस्तीफा मांगा है।

Show More
Nitin Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned