अब सिख आतंकियों को बढ़ावा देने में जुटा पाकिस्तान, सामने आई हाफिज सईद और गोपाल सिंह के साथ की फोटो

अब सिख आतंकियों को बढ़ावा देने में जुटा पाकिस्तान, सामने आई हाफिज सईद और गोपाल सिंह के साथ की फोटो

Kaushlendra Pathak | Updated: 17 Apr 2018, 04:54:36 PM (IST) New Delhi, Delhi, India

पाकिस्तान अब भारत के खिलाफ सिख आतंकियों को बढ़ाव दे रहा है। मीडिया में कुछ तस्वीरें सामने आई हैं, जिससे पाक के नापाक इरादे का पुख्ता सबूत मिलता है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ आतंक को बढ़ावा देने के लिए नया रास्ता अख्तियार किया है। दरअसल, कुछ ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिससे पाक के नापाक इरादे का एक बार फिर खुलासा हुआ है। इन तस्वीरों में लश्‍कर के प्रमुख हाफिज सईद और सिख आतंकी गोपाल सिंह चावला साथ नजर आ रहे हैं। इन दोनों को पाकिस्तान के लाहौर में देखा गया है। दावा किया जा रहा है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेएएम) और जमात-उद-दाव भारत को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से सिख आतंकियों का समर्थन कर रहे हैं।

भारत ने पाक की इस हरकत पर आपत्ति जताई

वहीं, भारत ने पाक की इस हरकत पर आपत्ति जताई है। विदेश मंत्रालय ने कि भारतीय राजनयिकों की टीम सिख यात्रियों से वाघा रेलवे स्टेशन पर 12 अप्रैल को पहुंचने के बाद भी नहीं मिल सकी। 14 अप्रैल को भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के साथ पाक में मौजूद भारतीय राजनयिकों की बैठक रखी गई थी, लेकिन यहां भी पाकिस्‍तान ने आपस में लोगों को नहीं मिलने दिया। गौरतलब है कि गोपाल सिंह ने हाल ही में वैसाखी के दिन पाकिस्तानी अफसरों के निर्देश पर भारतीय अफसरों को पंजा साहिब गुरुद्वारे में जाने से रोक दिया था।

 

सोशल मीडिया के जरिए बढ़ाई जा रही कट्टरता

गौरतबल है कि हाल ही में गृह मंत्रालय ने भाजपा सांसद मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता वाले संसदीय पैनल ने बताया था कि आतंकी संगठन सिख युवाओं में इंटरनेट और सोशल मीडिया के जरिए कट्टरता बढ़ा रहे हैं। यह देश के लिए एक बड़ी चुनौती है। रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल और आंतरिक सुरक्षा एजेंसियों ने 19 मार्च को पार्लियामेंट में पेश किए दस्तावेजों में कहा था कि पिछले दिनों पाकिस्तान में सिख आतंकी संगठनों में बढ़ोत्तरी देखी गई है।

यहां आपको यह भी बता दें कि कुछ लोगों का कहना था कि पाकिस्तान का भारत विरोधी एजेंडा चलाने के लिए सिख आतंकियों ने गुरुद्वारा पंजा साहिब के परिक्रमा वाले मार्ग पर सिख रिफ्रेंडम 2020 के पोस्टर भी लगाए थे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned