JNU में Swami Vivekananda की मूर्ति के अनावरण पर बोले PM मोदी- यह प्रतिमा सबको प्रेरित करेगी

  • PM Narendra Modi ने गुरुवार को जेएनयू में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया
  • PM ने कहा कि मेरी कामना है कि स्वामी जी की ये प्रतिमा, सभी को प्रेरित करे, ऊर्जा से भरे

By: Mohit sharma

Published: 12 Nov 2020, 08:07 PM IST

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को JNU में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरी कामना है कि JNU में लगी स्वामी की ये प्रतिमा, सभी को प्रेरित करे, ऊर्जा से भरे। ये प्रतिमा वो साहस दे, Courage दे, जिसे स्वामी विवेकानंद प्रत्येक व्यक्ति में देखना चाहते थे। ये प्रतिमा वो करुणाभाव सिखाए, Compassion सिखाए, जो स्वामी जी के दर्शन का मुख्य आधार है। उन्होंने कहा कि ये प्रतिमा देश को youthed development के Vision के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करे, जो स्वामी जी की अपेक्षा रही है।

दिल्ली सरकार का बड़ा कदम- Corona Patients को मिलेगी इलेक्ट्रिक कार वाली Free Ambulance

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि ये प्रतिमा हमें स्वामी जी के सशक्त-समृद्ध भारत के सपने को साकार करने की प्रेरणा देती रहे। देश का युवा दुनियाभर में Brand India का Brand Ambassador हैं। हमारे युवा भारत के Culture और Traditions का प्रतिनिधित्व करते हैं। आपसे अपेक्षा सिर्फ हज़ारों वर्षों से चली आ रही भारत की पहचान पर गर्व करने भर की ही नहीं है, बल्कि 21वीं सदी में भारत की नई पहचान गढ़ने की भी है। अतीत में हमने दुनिया को क्या दिया, ये याद रखना और ये बताना हमारे आत्मविश्वास को बढ़ाता है। इसी आत्मविश्वास के बल पर हमें भविष्य पर काम करना है।

UK के शहरों की तर्ज पर बनेंगी दिल्ली की सड़कें, मार्च में पहला प्रोजेक्ट: केजरीवाल

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत 21वीं सदी की दुनिया में भारत क्या योगदान देगा, ये हम सभी का दायित्व है। जब-जब भारत का सामर्थ्य बढ़ा है , तब तब उससे दुनिया को लाभ हुआ है। भारत की आत्मनिर्भरता में आत्मवत सर्वभूतेषु की भावना जुड़ी हुई है, पूरे संसार के कल्याण की सोच जुड़ी हुई है। आज सिस्टम में जितने रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं, उऩके पीछे भारत को हर प्रकार से बेहतर बनाने का संकल्प है।

Bollywood Actor Asif Basra ने किया Suicide! रस्सी के फंदे से लटक कर दी जान

पीएम ने कहा कि आज हो रहे रिफॉर्म्स के साथ नीयत और निष्ठा पवित्र है। आज जो रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं, उससे पहले एक सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है। इस कवच का सबसे बड़ा आधार है- विश्वास। इस कैंपस में एक लोकप्रिय जगह है- साबरमती ढाबा, आज तक आपके Ideas की, Debate की, Discussion की जो भूख साबरमती ढाबा में मिटती थी। अब आपके लिए स्वामी जी की इस प्रतिमा की छत्रछाया में एक और जगह मिल गई है। जब-जब देश के सामने कोई कठिन समय आया है, हर विचार हर विचारधारा के लोग राष्ट्रहित में एक साथ आए हैं। आज़ादी की लड़ाई में महात्मा गांधी के नेतृत्व में हर विचारधारा के लोग एक साथ आए थे। उन्होंने देश के लिए एक साथ संघर्ष किया था।

PM Narendra Modi प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned