Mann ki Baat: 'मन की बात' में PM मोदी ने मेजर ध्यानचंद को किया याद किया, यहां देखे कार्यक्रम के मुख्य बिंदु

Mann ki Baat. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आज सुबह 11 बजे मन की बात कार्यक्रम में राष्ट्र को संबोधित किया। कार्यक्रम के शुरूआत में उन्होंने मेजर ध्यानचंद की जयंती (Nation sports day 2021) पर उन्हें याद किया। इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक और पैराओलंपिक में युवाओं के प्रदर्शन की सराहना की।

By: Nitin Singh

Updated: 29 Aug 2021, 11:51 AM IST

नई दिल्ली। Mann ki Baat. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आज सुबह 11 बजे मन की बात कार्यक्रम से राष्ट्र को संबोधित किया। कार्यक्रम के शुरूआत में उन्होंने मेजर ध्यानचंद की जयंती पर उन्हें याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि मेजर ध्यानचंद की आत्मा जहां भी होगी, प्रसन्न होगी क्योंकि दुनिया में भारत की हॉकी डंका ध्यानचंद की हॉकी स्टिक से बजा था और एक बार फिर भारतीय हॉकी खिलाड़ियों ने 41 साल बाद हॉकी में देश का नाम ऊंचा किया।

रिस्क लेना चाहता है आज का युवा

इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक और पैराओलंपिक में युवाओं के प्रदर्शन की सराहना की। पीएम मोदी ने कहा कि आज का युवा पुराने रास्ते पर नहीं चलना चाहता है। आज का युवा नए रास्ता बनाना चाहता है वो नौकरी के बजाय स्टार्टअप शुरू करना चाहता है। उन्होंने कहा कि देश के युवाओं का रिस्क लेने के लिए मन उछल रहा है और मैं देश के इन युवाओं में नई संभावनाएं देख रहा हूं।

पीएम ने दी जन्माष्टमी की शुभकामनाएं

इस दौरान पीएम मोदी ने 30 अगस्त को देशभर में मनाए जाने वाले त्योहार जन्माष्टमी का जिक्र भी किया। उन्होंने कहा कि कृष्ण हर जगह है और कृष्ण सब कुछ है। इसके साथ ही उन्होंने देशवासियों को त्योहार को मनाने के साथ उनके वैज्ञानिक महत्व जानने की सलाह भी दी। पीएम ने सभी देशवासियों को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दीं।

संस्कृत में संचालित हो रहा सामुदायिक रेडियो

मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने गुजरात के एक सामुदायिक रेडियो चैनल की बात की। जहां संस्कृत भाषा में सभी कार्यक्रम प्रसारित होते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ये सामुदायिक रेडियो संस्कृत भाषा को मान देने जुटे हुए हैं। उन्होंने बताया कि यह रेडियो वहीं से संचालिच होता है जहां भारत का गौरव स्टेच्यू ऑफ यूनिटी है।

विश्वकर्मा जयंती का किया जिक्र

देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कुछ ही दिनों में हम विश्वकर्मा जयंती मनाएंगे। मुझे लगता है कि निर्माण कार्य में लगा हर नागरिक विश्वकर्मा है। ऐसे में हम सभी को स्किल का सम्मान करना चाहिए तभी सही मायनों में हमारी विश्वकर्मा पूजा सार्थक होगी। इसके साथ ही अपनी बात समाप्त करते हुए पीएम मोदी ने देशवासियों को आने वाले सभी त्योहारों की एक बार फिर से शुभकामनाएं दीं।

पीएम ने देशवासियों से मांगे थे सुझाव

पीएम मोदी ने हाल ही में कार्यक्रम में बात करने के लिए देशवासियों से सुझाव मांगे थे। बुधवार को अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि इस महीने के मन की बात कार्यक्रम में आप की किस तरह के विषयों में रुचि है। इन विषयों को आप mygov या नमो एप पर साझा कर सकते हैं। इसके अलावा आप फोन नंबर 1800117800 पर अपना संदेश रिकार्ड करके भी भेज सकते हैं।

कहां सुन सकते हैं मन की बात कार्यक्रम

बता दें कि आप इस 'मन की बात' कार्यक्रम को आकाशवाणी, दूरदर्शन के पूरे नेटवर्क और मोबाइल एप पर भी सुन सकते हैं। इसके अलवा इसे प्रधानमंत्री कार्यालय (pmo) और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के यूट्यूब चैनलों पर भी देखा सकता है।

क्या है मन की बात कार्यक्रम

मन की बात (Mann ki Baat) एक मासिक रेडियो कार्यक्रम में, जिसके माध्यम से पीएम मोदी देश की जनता से रूबरू होते हैं। उनसे बात करते हैं और विभिन्न मुद्दों पर अपनी राय भी रखते हैं। इस कार्यक्रम के माध्यम से पीएम मोदी अब तक 79 बार देश की जनता से रूबरू हो चुके हैं। कार्यक्रम से पहले पीएम मोदी लोगों से कार्यक्रम में बात करने के लिए जनता से सुझाव मांगते हैं। फिर जनता द्वारा सुझाए गए मुद्दों पर पीएम लोगों से बात करते हैं।

pm modi COVID-19
Show More
Nitin Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned