scriptproposal sent to air quality commission to control crop burning | Crop Burning: क्या इस साल नहीं जलेगी पराली, नहीं फैलेगा Delhi-NCR में प्रदूषण? जानिए क्या कर रही है सरकार | Patrika News

Crop Burning: क्या इस साल नहीं जलेगी पराली, नहीं फैलेगा Delhi-NCR में प्रदूषण? जानिए क्या कर रही है सरकार

दिल्ली-एनसीआर में हर साल पराली जलाने के कारण अक्टूबर-नवंबर में काफी मात्रा में आबोहवा में प्रदूषण फैल जाता है। इससे दिल्ली में दमघोंटू हवा से सांस लेना भी लोगों का दूभर हो जाता है। ऐसे में केंद्र सरकार समेत दिल्ली सरकार, हरियाणा सरकार, पंजाब सरकार समेत सभी की तरफ से प्रदूषण की रोकथाम के लिए बीते कुछ वर्षों में कदम उठाए गए। वहीं, पंजाब सरकार ने पराली न जलाने के लिए किसानों को 2500 रुपये प्रति एकड़ देने का प्रस्ताव एयर क्वॉलिटी कमीशन को भेजा है।

नई दिल्ली

Updated: August 01, 2022 05:35:24 pm

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए कई स्टेकहोल्डर को साथ में लाकर केंद्र सरकार ने कमीशन ऑफ एयर क्वालिटी मैनेजमेंट (CAQM) का गठन किया है। पिछले वर्ष 2021 में इसी कमीशन द्वारा पॉल्यूशन की रोकथाम के लिए उचित कदम उठाए गए। दिल्ली-एनसीआर में हर वर्ष पंजाब में पराली जलाने के कारण अक्टूबर-नवंबर में दिल्ली-एनसीआर की तरफ प्रदूषित हवाएं दस्तक देती हैं। इसके कारण पीएम 2.5 का स्तर वातावरण में बहुत बढ़ जाता है।
Crop Burning: क्या इस साल नहीं जलेगी पराली, नहीं फैलेगा Delhi-NCR में प्रदूषण? जानिए क्या कर रही है सरकार
Crop Burning: क्या इस साल नहीं जलेगी पराली, नहीं फैलेगा Delhi-NCR में प्रदूषण? जानिए क्या कर रही है सरकार
कमीशन ऑफ एयर क्वालिटी मैनेजमेंट की सितंबर से ही प्रदूषण को रोकने के लिए बैठके शुरू हो जाती हैं। जिससे अक्टूबर-नवंबर में पराली जलाने की घटनाओं पर रोकथाम लगाए जा सके और किसानों को दूसरी तकनीक को अपनाने के लिए कई तरह के उपाय भी बताए गए। हालांकि, किसानों द्वारा कहा जाता रहा है कि वह न चाहते हुए भी पराली जलाने को मजबूर हैं क्योंकि पराली जलाना सबसे सस्ता पड़ता है। किसानों की मांग है कि उन्हें सरकार से सब्सिडी के जरिए उच्चतम तकनीक की मशीनें व अन्य उपकरण मुहैया कराए जाएं। जिससे वह उन माध्यम से पराली को न जलाते हुए उसकी खाद बनाकर रियूज कर सकें।
जमीनी स्तर पर पराली जलाने की घटना को रोकना जरूरी

वहीं, पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने के बाद ऐसी उम्मीद की जा रही है कि दिल्ली सरकार और पंजाब सरकार आने वाले समय में कमीशन ऑफ एयर क्वालिटी मैनेजमेंट की बैठकों में दिल्ली-एनसीआर में पराली से प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए कई रणनीति बनाएंगी। पहले पंजाब में कांग्रेस की सरकार होने के कारण पंजाब और दिल्ली सरकार के बीच अक्सर पराली से फैलने वाले प्रदूषण को लेकर गतिरोध देखा जाता था। लेकिन अब विशेषज्ञों को उम्मीद है कि जमीनी स्तर पर पराली जलाने की घटनाओं को रोकने में सहायता मिल सकती है। इसे रोकना जरूरी है।
किसानों को प्रति एकड़ 2500 रुपये देने का कमिशन में भेजा प्रस्ताव

हाल ही में इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशम के लॉन्च के अवसर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण से जुड़े एक सवाल पर जानकारी दी है कि पंजाब सरकार ने एयर क्वालिटी कमीशन को एक प्रस्ताव भेजा है। उस प्रस्ताव के मुताबिक, 2500 रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से किसानों को अपनी पराली न जलाने के लिए कैश इंसेंटिव देने की बात कही गई है कि हम किसान को 2500 रुपये दे दें। इसके बाद किसान जो भी तकनीक इस्तेमाल करें और वह पराली न जलाएं। पंजाब सरकार ने प्रस्ताव रखा है कि 500 रुपये पंजाब सरकार और 500 रुपये दिल्ली सरकार दे दें। बाकी के 1500 रुपये केंद्र सरकार दें। एयर क्वालिटी कमीशन इस पर जब भी निर्णय ले। दिल्ली सरकार को प्रदूषण कम करने के लिए जो भी करना पड़ेगा, वो करेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्तFlag Code Of India: 'हर घर तिरंगा' अभियान शुरू, 15 अगस्त से पहले जानिए तिरंगा फहराने के नियम, अपमान पर होगी जेल3 PAK खिलाड़ी बन सकते हैं टीम इंडिया की गले की हड्डी, Asia Cup 2022 में रहना होगा अलर्टशहर को गाजर घास मुक्त करने निगम ने चलाया विशेष अभियान, कुछ ऐसे चलेगा Operation 7 खिलाड़ी जो भारत पाकिस्तान 2021 T20 वर्ल्डकप मैच का थे हिस्सा, लेकिन एशिया कप 2022 मैच में नहीं मिली जगह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.