जम्मू के बाद अब पंजाब से पकड़ी गई हथियारों की खेप, भारत को दहलाना चाहते हैं आतंकी

जम्मू के बाद अब पंजाब से पकड़ी गई हथियारों की खेप, भारत को दहलाना चाहते हैं आतंकी

Kapil Tiwari | Updated: 01 Oct 2019, 04:02:25 PM (IST) New Delhi, Delhi, Delhi, India

मंगलवार को ही जम्मू-कश्मीर में 14 किलो आरडीएक्स बरामद किया गया है।

अमृतसर। पाकिस्तान में फल-फूल रहे आतंकी संगठन हिंदुस्तान में किसी बड़े हमले को अंजाम देने की लगातार कोशिश में हैं। जम्मू-कश्मीर के बाद पंजाब से भी सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दरअसल, अमृतसर में बीएसएफ और एसटीएफ ने मिलकर हथियार की एक खेप पकड़ी है। हथियारों के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। इसके पास से एके-47, राइफल्स और कारतूस मिले हैं। ऐसी आशंका जताई जा रहा है कि ये असलहा पाकिस्तान से भेजा गया है। पंजाब में पिछले दिनों पाकिस्तानी ड्रोन पकड़े जाने के बाद इस घटना से हड़कंप मच गया है।

एनकाउंटर के बाद पकड़ी गई हथियारों की खेप

यहां एसटीएफ के एआइजी रछपाल सिंह और बीएसएफ के अधिकारियों ने बताया कि पहले तो उनकी आतंकियों से मुठभेड़ हुई और उसके बाद तीन आरोपियों को हथियारों के साथ मुठभेड़ के बाद पकड़ लिया गया। अधिकारियों ने बताया है कि हथियारों की ये खेप पाकिस्तान से भारत 24 सितंबर को भारत को पहुंचनी थी।

आरोपियों की पहचान

पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों की पहचान भी बताई है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान गुरदासपुर निवासी सुखराज सिंह, जंडियाला के राजपाल सिंह और मजीठा के भूपेंद्र सिंह के रूप में बताई है। अधिकारियों ने बताया कि ये हथियार फिरोजपुर सेक्टर के ममदोत इलाके से बरामद किए गए थे। अधिकारियों ने बताया कि सोमवार की रात जंडियाला गुरु में एसटीएफ व बीएसएफ की टीम की इन बदमाशों के साथ मुठभेड़ हुई थी। इसके बाद उनको काबू किया गया। अधिकारियों ने बताया कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही हैI पूरे मामले में आतंकियों और पाकिस्‍तान के साथ उनके कनेक्‍शन की जांच की जा रही है।

जम्मू से गिरफ्तार हुआ 14 किलो आरडीएक्स

आपको बता दें कि मंगलवार को ही जम्मू में बस स्टैंड के पास एक होटल के पास से 14 किलो आरडीएक्स बरामद किया गया। जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना के जॉइंट ऑपरेशन के बाद ये कामयाबी मिली है। इन दो घटनाओं के बाद ये साफ हो गया है कि सीमा पार से आतंकी लगातार भारत में किसी बड़े हमले को अँजाम देने की सोच रहे हैँ।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned