तेजस्वी यादव ने बिहार सीएम को लिखा पत्र, रामविलास की पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित करने की उठाई मांग

बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (tejashwi yadav) ने राज्य के मुखिया नीतीश कुमार (nitish kumar) को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में तेजस्वी यादव ने आरजेडी (RJD) नेता रघुवंश प्रसाद और लोजपा (LJP) के संस्थापक रामविलास पासवान (ramvilas paswan) की पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित करने की मांग की है।

By: Nitin Singh

Updated: 11 Sep 2021, 02:43 PM IST

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (tejashwi yadav) ने राज्य के मुखिया नीतीश कुमार (nitish kumar) को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में तेजस्वी यादव ने आरजेडी (RJD) नेता रघुवंश प्रसाद और लोजपा (LJP) के संस्थापक रामविलास पासवान (ramvilas paswan) की पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित करने की मांग की है। गौरतलब है कि हाल ही में 12 सितंबर यानि कल एलजेपी (LJP) के संस्थापक रामविलास पासवान की पहली बरसी मनाई जानी है। इसका न्योता देने के लिए चिराग पासवान (chirag paswan) ने हाल ही में तेजस्वी यादव से मुलाकात की थी।

तेजस्वी ने नीतीश कुमार को लिखा पत्र

इसी बीच राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार (nitish kumar) को पत्र लिखकर बिहार में पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह और रामविलास पासवान की प्रतिमा स्थापित करने का अनुरोध किया है। इसके साथ ही उनकी जयंती और पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित करने की मांग की है।

तेजस्वी ने पत्र में लिखा, 'रघुवंश प्रसाद सिंह (raguvansh prasad) और रामविलास पासवान (ramvilas paswan) दोनों ही राज्य के महान विभूति होने के साथ-साथ प्रखर समाजवादी नेता थे। दोनों ही राजनेताओं ने अपने सामाजिक सरोकारों और सक्रिय राजनीतिक जीवन के माध्यम से बिहार राज्य की उल्लेखनीय सेवा की। दोनों बिहार के ऐसे सपूत रहे हैं, जिनके व्यक्तित्व और कृतित्व से हम सभी बिहारवासी सदा ऋणी रहेंगे।

अंतिम इच्छा पूरी कर दें श्रद्धांजलि

ऐसे में उनकी अंतिम इच्छाओं को सम्मान देते हुए उन्हें पूरा करना ही उनके प्रति हमलोगों की सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इसके साथ ही मेरा अनुरोध है कि दोनों दिवंगत नेताओं की राज्य में आदमकद प्रतिमा स्थापित करते हुए उनकी जयंती और पुण्यतिथि को राजकीय समारोह घोषित किया जाए।

यह भी पढ़ें: बिहार की राजनीति में फिर लालू की वापसी, तेजस्वी ने बताया कब आ रहे हैं पिता

गौरतलब है कि पिता की पहली बरसी का न्योता देने के लिए चिराग पासवान ने हाल ही में तेजस्वी यादव से मुलाकात की थी। वहीं पिता की बरसी में शामिल होने का निमंत्रण देने के लिए गुरुवार को चिराग ने अपने चाचा पशुपति पारस से भी मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद पशुपति ने कहा कि बड़े भाई की बरसी में शामिल नहीं होने का कोई सवाल नहीं उठता। मैं आज जो कुछ भी हूं, अपने बड़े भाई के आशीर्वाद से हूं।

चिराग ने छपवाए 10,000 आमंत्रण कार्ड

बता दें कि चिराग पासवान ने अपने पिता रामविलास पासवान की पहली बरसी के लिए 10,000 आमंत्रण कार्ड छपवाए हैं। वहीं चिराग ने ने पिता की बरसी के लिए राज्य के सभी नेताओं समेत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम मोदी, राहुल गांधी और सोनिया गांधी जैसे दिग्गज नेताओं को भी न्योता दिया गया है।

Show More
Nitin Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned