बिहार सीएम के जनता दरबार को तेजस्वी यादव ने कहा ढकोसला, बताई यह वजह

राष्ट्रीय जनता दल (rjd) के नेता तेजस्वी यादव (tejashwi yadav) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (bihar cm nitish kumar) के जनता दरबार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश (nitish kumar) कुमार का जनता दरबार सिर्फ एक ढकोसला है। यहां लोग फरियाद लेकर आते जरूर हैं, लेकिन उनपर कार्रवाई नहीं होती।

By: Nitin Singh

Published: 07 Sep 2021, 03:56 PM IST

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (rjd) के नेता तेजस्वी यादव (tejashwi yadav) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (bihar cm nitish kumar) के जनता दरबार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश (nitish kumar) कुमार का जनता दरबार सिर्फ एक ढकोसला है। यहां लोग फरियाद लेकर आते जरूर हैं, लेकिन उनपर कार्रवाई नहीं होती। बता दें कि तेजस्वी यादव ने अपने इस बयान की वजह भी बताई है। उन्होंने कहा कि पूर्वा जिला पार्षद दयानंद वर्मा की हत्या के 7 महीने बाद भी उस विधायक पर कार्रवाई नहीं हुई जो कि इस केस में नामजद हैं।

तेजस्वी ने बताई यह वजह

तेजस्वी (tejashwi yadav) ने बताया कि हाल ही में दिवगंत पार्षद की पत्नी सीएम के जनता दरबार (janta darwar) में न्याय की मांग करने पहुंची थी। इस दौरान महिला ने सीएम (cm) को बताया कि आपकी पार्टी के विधायक ने मेरे पति की हत्या की है। मैंने इस संबंध में थाने में मुकदमा भी दर्ज करवाया है। बावजूद इसके पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की। महिला की आपबीती सुनने के बाद भी सीएम ने उसे वापस पुलिस के पास भेज दिया।

विधायक को पुलिस से बचा रहे सीएम

तेजस्वी ने बिहार के मुख्यमीं नीतीश कुमार (cm nitish kumar) पर आरोप लगाया है कि उनके ही आदेश पर पुलिस ने एमएलए को बचाया है। तेजस्वी यादव (tejashwi yadav) का कहना है कि मृतक की पत्नी न्याय के लिए मुख्यमंत्री के जनता दरबार पहुंची, लेकिन सीएम ने उसे न्याय नहीं दिया। नीतीश कुमार का जनता दरबार बस एक ढकोसला है, यहां किसी की फरीयाद नहीं सुनी जाती।

यह भी पढ़ें: Bihar Panchayat Election: दूसरे चरण के चुनाव के लिए नामांकन आज से शुरू, ये हैं जरूरी नियम

गौरतलब है कि पश्चिम चंपारण के वाल्मिकीनगर निवासी जिला पार्षद दयानंद वर्मा की 7 महीने पहले हत्या हो गई थी। उनकी हत्या के आरोप में पत्नी कुमोद वर्मा ने जनता दल यूनाइटेड के विधायक धीरेन्द्र प्रताप सिंह ऊर्फ रिंकू सिंह को आरोपित किया गया था। बावजूद इसके पुलिस लगातार कार्रवाई से कन्नी काट रही है। सीएम ने कुमोद वर्मा की शिकायत सनने के बाद उन्हें डीजीपी के पास भेज दिया और कहा था कि डीजीपी सारे मामले को अपने से स्तर से देखेंगे।

Show More
Nitin Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned