एनसीआर में पकड़े गए आतंकियों का मकसद कहीं स्‍वतंत्रता दिवस पर दिल्‍ली दहलाना तो नहीं था!

गिरफ्तार आतंकियों की पहचान हो गई है। वे बांग्लादेश के रहने वाले हैं। इनका नाम क्रमश: मुशर्रफ उर्फ मूसा और रुबेल अहमद है।

By: Mazkoor

Published: 24 Jul 2018, 07:57 PM IST

नई दिल्‍ली : स्‍वतंत्रता दिवस में एक महीने भी नहीं बचे हैं। इसके मद्देनजर पूरे देश में सुरक्षा व्‍यवस्‍था कड़ी कर दी गई है तो दूसरी तरफ दिल्‍ली को दहलाने की तैयारी में आतंकवादियों ने भी अपनी कोशिश तेज कर दी है। मंगलवार को नोएडा पुलिस ने दो संदिग्‍ध बांग्‍लादेशी आतंकवादियों को एनसीआर के नोएडा इलाके में यूपी एटीएस और पश्चिम बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि उनके भारत आने का मकसद स्‍वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्‍त के मौके पर दिल्‍ली को दहलाने की हो रही सकती है।

आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिदीन के हैं सदस्‍य
पुलिस सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार आतंकियों की पहचान हो गई है। वे बांग्लादेश के रहने वाले हैं। इनका नाम क्रमश: मुशर्रफ उर्फ मूसा और रुबेल अहमद है। दोनों कुछ समय से ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर इलाके में छिप कर रह रहे थे। ये गैरकानूनी तरीके से भारत में घुसे थे। पश्चिम बंगाल पुलिस ने इनकी सूचना उत्‍तर प्रदेश एटीएस को दिया था। इसके बाद इन दोनों ने संयुक्त ऑपरेशन कर इन्‍हें पकड़ लिया। ये आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिदीन के सदस्‍य हैं। इस संगठन की आतंकी गतिविधियों की वजह से बांग्लादेश सरकार ने इसे प्रतिबंधित कर रखा है।

आइबी सक्रिय
अब जांच एजेंसी एटीएस, एलआइयू व आइबी समेत सभी एजेंसियां इनसे पूछताछ कर रही हैं। उनका मकसद इनके भारत आने का मकसद जानना है। वह यह भी जानने की कोशिश कर रहे हैं कि भारत आने वाले सिर्फ ये दोनों हैं या फिर इनके साथ और आतंकी भी भारत में आए हैं। इन्‍होंने भारत में कहां-कहां रेकी की है आदि।

खालिस्‍तानी आतंकी की भी है दिल्‍ली पर नजर
बता दें कि दिल्ली पर खालिस्तानी आतंकियों की भी नजर है। कुछ दिन पहले खुफिया एजेंसियों को दो खालिस्तानी आतंकियों के भारत आने की सूचना मिली थी। बताया जाता है कि वे दोनों संसद भवन पर हमला करने के उद्देश्‍य से भारत आए थे। दूसरी तरफ आतंकी हमले के मद्देनजर पुलिस ने नई दिल्ली व मध्य जिले को अलर्ट कर दिया था। इसके लिए पुलिस ने संसद सहित दोनों जिले में कई स्तरीय सुरक्षा घेरा तैयार किया था। संदिग्धों पर अब भी नजर रखी जा रही है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned