यूपी चुनाव में शिवसेना, कांग्रेस से करेगी गठबंधन, संजय राउत के 100 सीटों पर चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद उठ रहे सवाल

शिवसेना सांसद संजय राउत (sanjay raut) ने उत्तर प्रदेश (UP assembly elections 2022) लड़ने का ऐलान कर दिया है। शिवसेना (shivsena) के इस फैसले के बाद से सवाल उठ रहा है कि क्या शिवसेना यूपी में बीजेपी का सामना करने के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन करेगी।

By: Nitin Singh

Published: 13 Sep 2021, 01:38 PM IST

नई दिल्ली। शिवसेना सांसद संजय राउत (sanjay raut) ने अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश (UP assembly elections 2022) और गोवा विधानसभा चुनाव (goa assembly elections 2022) लड़ने का ऐलान कर दिया है। संजय राउत ने यूपी की 403 सीटों में से करीब 100 सीटों और गोवा की 40 सीटों में से 20 सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा किया है। शिवसेना (shivsena) के इस फैसले के बाद से सवाल उठ रहा है कि क्या शिवसेना यूपी में बीजेपी का सामना करने के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन करेगी।

बता दें कि शिवसेना (shivsena) ने अभी तक किसी भी राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं किया है, लेकिन पार्टी ने गठबंधन की संभावना का संकेत दिया है। यूपी और गोवा के चुनावी मैदान में उतरने का ऐलान करने के साथ ही संजय राउत ने कहा कि वो पश्चिम उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) में किसान संगठनों का समर्थन करने को तैयार है। इसके साथ ही संजय ने यूपी में छोटे संगठनों संग गठबंधन करने का इशारा भी किया था।

राजनीतिक जानकारों का कहना है कि शिवसेना (shivsena) यूपी विधानसभा चुनाव (up assembly elections 2022) के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन करने को तैयार है क्योंकि कांग्रेस पहले से ही महाराष्ट्र (maharashtra) में उसकी सहयोगी है। इसके अलावा यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (ajay kumar lallu) पहले ही कह चुके हैं कि उनकी पार्टी आने वाले दिनों में छोटे दलों के साथ गठबंधन करेगी। वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (priyanka gandhi) ने भी कहा था कि पार्टी गठबंधन के विचार के लिए 'खुली' है।

माना जा रहा है कि अगर यूपी चुनाव के लिए शिवसेना (shivsena) और कांग्रेस (congress) एक साथ आती हैं तो भाजपा (bjp) और सपा (sp) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। फिलहाल पार्टी या किसी नेता की ओर से इस संबंध में अभी तक कोई जानकारी नहीं दी गई है। गौरतलब है कि शिवसेना की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक में यूपी विधानसभा चुनाव (UP assembly elections 2022) लड़ने का फैसला लिया गया है। बैठक में शिवसेना नेताओं ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार के शासन में उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह फेल हो गई है।

Show More
Nitin Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned