Zika Virus : महाराष्ट्र के पुणे में मिला पहला केस, केरल में आए 63 मामले सामने

 

Zika Virus: भारत में जीका वायरस का पहला मामला 2017 में गुजरात में सामने आया था। उसके बाद तमिलनाडु में भी जीका वायरस के मामले सामने आए थे।

By: Dhirendra

Published: 01 Aug 2021, 07:02 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच अब जीका वायरस ( Zika Virus ) ने भी अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। केरल के बाद अब महाराष्ट्र के पुणे ( Pune ) में भी जीका वायरस का पहला मामला सामने आया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि संक्रमण से पीड़ित महिला मरीज पूरी तरह से ठीक हो गई है। जीका वायरस संक्रमण को लेकर किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। खास बात यह है कि इसके लक्षण कोरोना और डेंगू से मिलते हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया है कि पीड़ित महिला के परिवार के सदस्यों में इसके कोई लक्षण नहीं मिले हैं। जीका वायरस से पीड़ित 50 वर्षीय महिला पुणे के पुरंदर तहसील के बेलसर गांव की रहने वाली है।

Read More: Patrika Explainer: क्या है जीका वायरस और कैसे करें बचाव

केरल में 2 नए मरीज आए सामने

केरल सरकार में स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि केरल में जीका वायरस का संक्रमण पहले से ही बढ़ रहा है। शनिवार को एक नाबालिग लड़की सहित दो और लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। केरल में जीका संकेमित मरीजों की संख्या बढ़कर 63 हो गई।

जीका वायरस के लक्षण

जीका वायरस संक्रमण के प्रारंभिक चरण SARS-CoV2 संक्रमण के कुछ लक्षणों के समान हैं। कोविद-19 का कारण बनते हैं। इस बात का जिक्र विशेषज्ञों ने अप्रैल में जर्नल ऑफ मेडिकल वायरोलॉजी में लिखा है। जीका वायरस के लक्षणों में बुखार, त्वचा पर चकत्ते, नेत्र श्लेष्मलाशोथ, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द, अस्वस्थता और सिरदर्द शामिल हैं। यह डेंगू जैसे अन्य अर्बोवायरस संक्रमणों के कारण बहुत समान है।

4 संक्रमितों में से 1 में विकसित होते हैं इसके लक्षण

जीका वायरस के लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं। इसका असर 2 से 7 दिनों तक रहता है। खास बात यह है कि चार संक्रमित लोगों में से केवल एक में ही बीमारी के लक्षण विकसित हो पाते हैं।

कोरोना और जीका के कुछ लक्षण एक समान

जीका वायरस रोग और कोरोना वायरस में समानताएं हैं। लेकिन वैक्टर, संचरण और महामारी विज्ञान के मामले में दोनों अलग-अलग हैं। जीका वायरस एडीज एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है जिसे डेंगू और चिकनगुनिया जैसे संक्रमण फैलाने के लिए भी जाना जाता है।

4 साल पहले गुजरात में सामने आया था पहला मामला

भारत में जीका वायरस का पहला मामला 2017 में गुजरात में सामने आया था। उसके बाद तमिलनाडु में भी जीका वायरस के मामले सामने आए थे।

Read More: भारत में तेजी से फैल रहा है ज़ीका वायरस, इस तरह कर सकते हैं बचाव

Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned