10 दिन में तीसरी बार चूरू में 50.3 डिग्री का टार्चर

Madhu Sudhan Sharma

Publish: Jun, 11 2019 12:02:38 PM (IST) | Updated: Jun, 11 2019 02:10:05 PM (IST)

ख़बरें सुनें

चूरू. जून माह में चार दिन बाद चूरू फिर से भीषण गर्मी की चपेट में है। 10 दिन में पारा तीसरी पार 50 डिग्री से ऊपर पहुंच गया। एक से चार जून तक पारा 48 से 50.8 डिग्री के बीच बना रहा। इसके बाद लोगों को चार दिन तक भीषण गर्मी से कुछ राहत रही। लेकिन रविवार से जिलेवासी फिर से भीषण गर्मी व प्रचंड लू से झुलस रहे हैं। सुबह से ही सूर्य की किरणें आग की तरह धोरों पर पड़ रही थी। 10 बजते ही उष्ण लहर ने रौद्र रूप धारण कर लिया। इसका नतीजा शाम पांच बजे तक पारा 50.3 डिग्री के शिखर पर जा पहुंचा। ज्ञातव्य हो कि चूरू में इस साल पड़ रही गर्मी इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई। चूूरू मौसम विभाग के इतिहास में इतनी भीषण गर्मी किसी वर्ष नहीं पड़ी। चूरू कुछ दिन तो देश का सबसे गर्म स्थान रहा। जयपुर मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार को भी चूूरू प्रदेश में सबसे अधिक गर्म जिला रहा। यहां अधिकतम तापमान 50.3 व न्यूनतम 29.3 डिग्री दर्ज किया गया। हालांकि धौलपुर में कृषि विभाग के तापमापी में पारा 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो प्रदेश में सबसे गर्म रहा।

फिर से रेड अलर्ट पर प्रदेश के इतने जिले
प्रदेश में दुबारा बढ़ी प्रचंड गर्मी व लू से अधिकांश जिले प्रभावित हुए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी राजस्थान में चूरू, बीकानेर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, पाली और श्रीगंगानगर तथा पूर्वी राजस्थान में टोंक, सवाईमाधोपुर, कोटा, करौली, झुंझुनूं, झालावाड़, जयपुर, धौलपुर, चित्तौडगढ़़, बूंदी, भीलवाड़ा, भरतपुर, बारा, अलवर व अजमेर जिले फिर से रेड अलर्ट पर आ गए हैं। जबकि बीच में चूरू व कोटा को छोड़कर सभी जिलों में तापमान सामान्य हो गया था।
राजलदेसर. लगातार बढ़ रहे तापमान से कस्बे के लोगों को राहत पहुंचाने के लिए नगर पालिका की ओर से सोमवार को नौवें दिन भी कस्बे के मुख्य सुभाष चौक, मुख्य बाजार, गांधी चौक, फ्रेंडस सोसाइटी, रेलवे स्टेशन आदि मार्गों पर टैंकरों से पानी छिड़कवाया गया। तापमान बढऩे से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। अधिक गर्मी होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों से कम लोगों के आने के कारण कस्बे के बाजारों में सुबह सन्नाटा रहा।
सुजानगढ़. भीषण गर्मी व लू का कहर सोमवार को भी जारी रहा। सुबह आठ बजे ही गर्म हवा चलनी शुरू हो गई जो दोपहर तक लू में तब्दील हो गई। शहर के मुख्य बाजार दोपहर में सूने रहे।

बढ़ गई बिजली की 38.25 फीसदी खपत
जैसे-जैसे पारा ऊपर चढ़ रहा है वैसे-वैसे बिजली की खपत भी जिले में बढ़ती जा रही है। जिले में करीब 47 फीसदी बिजली की खपत बढ़ गई है। चूरू शहर के सहायक अभियंता शशिकांत कुलडिय़ा ने बताया कि शहर में सामान्य मौसम में करीब 3.20 लाख से 3.40 लाख यूनिट बिजली खर्च होती है लेकिन इन दिनों शहर में 3.80 से चार लाख यूनिट बिजली की खपत हो रही है। वहीं अधीक्षण अभियंता नेमीचंद मीणा ने बताया कि जिलेभर में सामान्य मौसम में 58 से 67 लाख यूनिट बिजली प्रतिदिन खर्च होती हैं लेकिन प्रचंड गर्मी के कारण इन दिनों में 81 लाख यूनिट से अधिक बिजली खर्च हो रही है। करीब 38.25 प्रतिशत बिजली की खपत बढ़ गई है। भार अधिक बढऩे से उपकरणों के जलने की संभावना बढ़ जाती है। बार-बार फ्यूज उड़ जाते हैं और कई बार तार भी टूट जाते हैं।

रेड अलर्ट से नहीं उबरा अपना चूरू
दिनांक अधिकतम न्यूनतम
01 50.8 32.0
02 48.9 29.5
03 50.3 29.0
04 48.0 30.3
05 47.3 31.0
06 46.5 30.9
07 46.6 28.5
08 47.4 29.9
09 48.3 28.6
10 50.3 29.3

प्रदेश का तापमान
जिला तापमान न्यूनतम
चूरू 50.3 29.3
श्रीगंगानगर 48.5 26.6
बीकानेर 47.4 33.3
कोटा 47.3 34.0
जयपुर 46.3 33.6

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned