scriptमल्टीमॉडल इंटीग्रेशन कर मेट्रो स्टेशन- नेटवर्क को जोड़ेंगे, ताकि आसान हो एप्रोच | bhopal metro | Patrika News
समाचार

मल्टीमॉडल इंटीग्रेशन कर मेट्रो स्टेशन- नेटवर्क को जोड़ेंगे, ताकि आसान हो एप्रोच

300 मीटर तक टीओडी लागू, ऊंचे भवनों का रास्ता खोलेंगे मेट्रो से ही बने शहर का प्लान

भोपालJun 16, 2024 / 11:00 am

देवेंद्र शर्मा

  • एमडी सीबी चक्रवर्ती ने मेट्रो से मल्टीमॉडल इंटीग्रेशन समेत टीओडी, लोकल एरिया प्लानिंग व कंप्रेहेंसिव मोबिलिटी प्लान पर ली बैठक
    भोपाल.
    मेट्रो ट्रेन कमर्शियल रन से पहले मेट्रो रेल कारपोरेशन यात्रियों की मेट्रो स्टेशन तक आसान पहुंच के लिए मल्टीमॉडल इंटीग्रेशन विकसित करेगा। इसके साथ के मेट्रो लाइन- नेटवर्क के आसपास विकास का अपना अलग प्लान भी तैयार करेगा। कोशिश की जाएगी कि अब शहर का विकास सड़कों की बजाय मेट्रो नेटवर्क के साथ में हो। इसे लेकर एमडी सीबी चक्रवर्ती ने संबंधित अफसरों व कंसलटेंट से बैठक की। बकायदा पूरा प्रजेंटेशन कराया गया। इसमें स्पष्ट किया गया है कि मेट्रो ट्रेन के कमर्शियल रन से पहले शहर के प्रमुख हिस्सों को मेट्रो स्टेशन, नेटवर्क से जोड़ना होगा, ताकि लोग आसानी से यहां पहुंचे और यात्रा कर सके। आशंका भी जताई कि ऐसा नहीं होता है तो फिर मेट्रो का यात्रियों के लिए दिक्कत हो सकती है। गौरतलब है कि 2027 में रोजाना करीब पौने दो लाख यात्रियों की उम्मीद की जा रही है।
300 मीटर तक टीओडी लागू, ऊंचे भवनों का रास्ता खोलेंगे
  • प्रजेंटेशन में बताया गया कि मेट्रो लाइन से 300 मीटर तक ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट के तहत हाइराइज भवनों को बनाने का रास्ता खोला जाएगा। इसमें मेट्रो का भी शेयर होगा। मेट्रो कारपोरेशन इसे अपनी कमाई का एक बड़ा जरिया मान रहा है। यहां टीओडी आधारित अतिरिक्त एफएआर की राह खोली जाएगी। यानि यहां ऊंची इमारत तो बनाई जा सकेगी, लेकिन इसके लिए टीओडी सर्टिफिकेट से अधिकार खरीदने होंगे।
मेट्रो से ही बने शहर का प्लान
  • यहां स्पष्ट किया गया कि भले ही मास्टर प्लान लेटलतीफी में हो, लेकिन लोकल एरिया प्लान बनाकर मेट्रो के आसपास ही शहर का विकास और विस्तार तय किया जाए। आवासीय से लेकर मार्केट, स्कूल कॉलेज और अन्य उपयोग के निर्माण मेट्रा नेटवर्क से 300 मीटर में हो, ताकि अधिकतम यात्रियों के साथ मेट्रो को लाभ मिल सके। यहां कंप्रेहेंसिव मोबिलिटी प्लान के तहत लोगों को मेट्रो स्टेशन तक अपने वाहन लाने और फिर मेट्रो से आगे का सफर तय करने के लिए प्रोत्साहित करने की बात है। इसके लिए मेट्रो स्टेशन पर विशेष पार्किंग क्षेत्र विकसित किए जा सकते हैं।

Hindi News/ News Bulletin / मल्टीमॉडल इंटीग्रेशन कर मेट्रो स्टेशन- नेटवर्क को जोड़ेंगे, ताकि आसान हो एप्रोच

ट्रेंडिंग वीडियो