scriptमक्का से एथनॉल उत्पादन की तरफ बढ़े छिंदवाड़ा के कदम | Patrika News
समाचार

मक्का से एथनॉल उत्पादन की तरफ बढ़े छिंदवाड़ा के कदम

-करीब 16 लाख मीट्रिक टन उत्पादन से उद्योगपति आकर्षित, ज्यादा मांग से किसान होंगे मालामाल

छिंदवाड़ाJul 03, 2024 / 05:38 pm

manohar soni

छिंदवाड़ा.पेट्रोलियम समेत दवा व सौंदर्य प्रसाधनों की जरूरत एथनॉल के उत्पादन की तरफ छिंदवाड़ा के कदम बढ़ चले हैं। दो फैक्टरीज तैयार होकर अक्टूबर से शुरू होने वाले मक्का सीजन का इंतजार कर रही है। तीसरी फैक्टरी भी लाइन में हैं। इस उद्योग की मांग से 10 लाख मीट्रिक टन मक्का की खपत होने का अनुमान है। भविष्य में ये उद्योग किसानों को मालामाल कर देगा।
देश-प्रदेश में मक्का उत्पादन में अग्रणी छिंदवाड़ा में इस समय 3.60 लाख हैक्टेयर में मक्का की फसल लगाई गई है। जिससे 16 लाख मीट्रिक टन मक्का होने का अनुमान है। हाल ही में सरकार की पेट्रोलियम में एथनॉल की भागीदारी 10 से बढ़ाकर 20 प्रतिशत करने के लक्ष्य से उद्योगपति आकर्षित हुए है। मक्का से बेहतर एथनॉल उत्पादन की तकनीक विकसित होने से उन्होंने छिंदवाड़ा में दो फैक्टरी स्थापित कर ली है। तीसरी फैक्टरी खोलने की तैयारी चल रही है। माना जा रहा है कि भविष्य में एथनॉल उत्पादन में छिंदवाड़ा जिला अग्रणी बनेगा।
……
मक्का से ऐसे बनता है एथनॉल
सबसे पहले मक्का को पीसकर पकाया जाता है। फिर उसे लिक्विड के रूप में शर्कराकृत किया जाता है। फिर विभिन्न प्रक्रियाओं से गुजारने से यह सीओ2 का रुप धारण करता है। आगे आसवन में जाता है, फिर एथनॉल बन जाता है।
…….
पेट्रोल में 20 फीसदी एथनॉल का लक्ष्य
एथनॉल इस समय पेट्रोल में 10 फीसदी है। सरकार ने इसे भविष्य में 20 फीसदी तक ब्लेडिंग करने का लक्ष्य तय किया है। इसके अलावा इसका उपयोग मुर्गी के खाद्य पदार्थ आधारित उद्योग फार्मास्यूटिकल्स, प्लास्टिक, लैदर, पॉलिश, प्लास्टिसाइजर और सौंदर्य प्रसाधनों के उत्पादन में हो रहा है। साथ ही मक्का से व्यंजन भी बनाए जाने से घरेलू उपयोग भी बढ़ा है।
…….ै
छिंदवाड़ा में मक्का का सर्वाधिक उत्पादन
पिछले दो दशक से छिंदवाड़ा की पहचान देश-प्रदेश में सर्वाधिक मक्का उत्पादन वाले जिले के रूप में है। इसके चलते उद्योगपति मक्का से एथनॉल उत्पादन की फैक्टरी लगाने आकर्षित हुए है।
…..
एथनॉल में ज्यादा खपत से भाव होंगे बेहतर
लघु उद्योग भारती के सचिव अमित सूचक की मानें तो मक्का के भाव इस समय 2400-2500 रुपए प्रति क्विंटल है। एथनॉल फैक्टरीज की मांग बढ़ जाने से इसके भाव में वृद्धि होगी। इसका लाभ जिले के किसानों को मिलेगा।
…..
इनका कहना है…
सौंसर के पास बोरगांव में मक्का पर आधारित एथनॉल फैक्टरी संचालित है। एक और फैक्टरी तैयार है, अक्टूबर से शुरू होगी। तीसरी फैक्टरी के लिए उद्योगपति ने जमीन खरीदी है। इन फैक्टरीज के पूरी रफ्तार से काम करने पर छिंदवाड़ा के अलावा बाहर का मक्का की यहीं खपत हो जाएगी।
-डीके बरकड़े, महाप्रबंधक व्यापार एवं उद्योग केन्द्र।
…..
जिले में इस समय 3.60 लाख हैक्टेयर में मक्का की फसल लगाई गई है। प्रति हैक्टेयर औसत 45 क्विंटल उत्पादन के हिसाब से 16 लाख मीट्रिक टन मक्का होने का अनुमान है। इसका उपयोग खाद्य पदार्थो के अलावा एथनॉल एवं स्टार्च उत्पादन में होगा।
-जितेन्द्र कुमार सिंह, उपसंचालक कृषि।
….

Hindi News/ News Bulletin / मक्का से एथनॉल उत्पादन की तरफ बढ़े छिंदवाड़ा के कदम

ट्रेंडिंग वीडियो